हरिद्वार के अखाड़े को बम से उड़ाने की धमकी, सामने आया धमकी का ऑडियो!

हरिद्वार के अखाड़े को बम से उड़ाने की धमकी, सामने आया धमकी का ऑडियो!

Bomb blast threat in haridwar - उत्तराखँड न्यूज, हरिद्वार, uttarakhand news,उत्तराखंड,

कुछ वक्त पहले हमने आपको बताया था कि किस तरह से आतंकी लगातार धर्मनगरी हरिद्वार को निशाना बनाते जा रहे हैं। इससे पहले पुलिस ने अलर्ट जारी किया था कि हरिद्वार में फ्रांस की तर्ज पर आंतकी हमला हो सकता है। लेकिन इससे अलग हम एक ऐसी खबर लेकर आपके सामने आए हैं, जिसके बारे में जानकर आपको एक बार के लिए हैरानी होगा। हरिद्वार के एक अखाड़े को आतंकियों से नहीं बल्कि स्थानीय लोगों से ही खतरा है। दरअसल हरिद्वार में श्रीपंचायती अखाड़ा निर्मल के सचिव पद से महंत बलवंत सिंह को हटाने के बाद विवाद लगातार बढ़ता जा रहा है। अखाड़े को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है। इस धमकी का एक ऑडियो वायरल होने पर अखाड़े की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। अखाड़ा परिसर में पीएसी भी तैनात कर दी गई है। इसके साथ ही अध्यक्ष ने भी सचिव से जान को खतरा बताया है। अध्यक्ष ने भी सुरक्षा की मांग की है।

दरअसल इससे पहले रविवार को कनखल में अखाड़ा अध्यक्ष श्रीमहंत ज्ञानदेव सिंह ने एक पत्रकार वार्ता की थी। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में सचिव पद से महंत बलवंत सिंह को हटाने की बात कही थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि सचिव पद का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है। आरोप लगाया गया कि महंत बलवंत सिंह ने बिल्डरों के साथ मिलकर अखाड़े की भूमि खुर्द बुर्द कर की है। ये फैसला अखाड़े के संतों के साथ हुई बैठक के बाद लिया गया था। इधर, सचिव को पद से हटाने का ऐलान करने पर माहौल गर्मा गया था। यहां से तनाव का माहोल लगातार बनता जा रहा है। मंगलवार को स्थिति तब गंभीर हो गई जब अध्यक्ष ने पुलिस को एक ऑडियो उपलब्ध कराया। इस ऑडियो में अखाड़े को बम से उड़ाने की धमकी दी जा रही है। इसके बाद से तो पुलिस के होश उड़े हुए हैं। पुलिस फिलहाल ये समझ नहीं पा रही है कि आखिर क्या करे और क्या ना करे? क्योंकि मामला अखाड़े का है और अखाड़ों के विवाद को सुलझाना किसी के लिए भी टेड़ी खीर जैसा है।

एसओ अनुज कुमार सिंह ने अखाड़े में पहुंचकर अध्यक्ष से मुलाकात कर सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद होने का भरोसा दिलाया। दोपहर होते होते अखाड़ा कैंपस में दो प्लाटून पीएसी तैनात कर दी गई। इधर, सचिव पद से हटाए गए महंत बलवंत सिंह ने अपनी जान को भी खतरा बताया है। बलवंत सिंह ने बिल्डरों से अपनी जान को खतरा बताते हुए एसएसपी कृष्ण कुमार वीके से मुलाकात की। इसके साथ ही बलवंत ने सुरक्षा मुहैया कराने की मांग भी की है। जाहिर है कि अखाड़े की संपत्ति से जुड़ा विवाद होने के चलते पुलिस भी अलर्ट है। दरअसल, धार्मिक संपत्तियों को लेकर हुए विवाद के कई गंभीर परिणाम सामने आए है। कई संतों के खून से हरिद्वार की भूमि वक्त वक्त पर लाल होती रही है। इसलिए ये विवाद कोई छोटा मोटा विवाद नहीं है। पुलिस पूरी तरह से चौकसी बरत रही है। खुफिया एजेंसी भी पैनी निगाह गढ़ाए हुए है। अखाड़े को बदनाम करने पर श्रीमहंत ज्ञानदेव सिंह के विरुद्ध अदालती कार्रवाई का मसौदा तैयार कर लिया है।


Uttarakhand News: Bomb blast threat in haridwar

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें