देवभूमि का 10 साल का बच्चा, रच दिया वो इतिहास कि दुनिया करेगी याद... हार्दिक बधाई

देवभूमि का 10 साल का बच्चा, रच दिया वो इतिहास कि दुनिया करेगी याद... हार्दिक बधाई

Uttarakhand ten years old hardic wrote novel in english - Uttarakhand news, उत्तराखंड न्यूज, हार्दिक उप्रेतीउत्तराखंड,

कहते हैं कि हुनर और प्रतिभा कभी पहचान की मोहताज नहीं होती। उत्तराखंड में ऐसे हुनरमंदों की कोई कमी नहीं है। यहां बच्चा बच्चा हुनरमंद है। लेकिन गांव के बच्चे तो मानो इतिहास रचने के लिए बने हैं। हम बात कर रहे हैं एक 10 साल के बच्चे हार्दिक की, जिसका नाता उत्तराखंड के सुदूर गांवों से है। शायद ही आप हार्दिक के बारे में कुछ जानते होंगे। लेकिन आज आपको जानना चाहिए। पिथौरागढ़ से सटे हुड़ेती गांव का दस साल का बच्चा है हार्दिक उप्रेती। जिस उम्र में बच्चे खेल और खिलौनों में बिजी रहते हैं, उस उम्र में हार्दिक ने बड़ा काम कर दिया है। सिर्फ दस साल की उम्र में हार्दिक ने अंग्रेजी भाषा में ए क्रिसमस मिरेकल उपन्यास लिखकर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा दिया है। इसके साथ ही उत्तराखंड के मान को बढ़ाने का भी काम किया है। आप हार्दिक के बारे में और भी बातें जानेंगे तो हैरान रह जाएंगे। इस काम के साथ ही हार्दिक ने दुनिया के सामने एक मिसाल पेश की है।

हार्दिक का ये पहला उपन्यास है। इस उपन्यास को हार्दिक ने इसी साल मार्च में ब्लू रोज पब्लिकेशन से प्रकाशित करवाया था। ए क्रिसमस मिरेकल उपन्यास 59 पेजों का शानदार उपन्यास है। ये नौ चैप्टर्स में छपा है। हार्दिक फिलहाल बीजीएस इंटरनेशनल स्कूल दिल्ली में 6ठी क्लास में पढ़ते हैं। हार्दिक के पिता लोकेश उप्रेती एक मल्टीनेशनल कंपनी में डायरेक्टर पद पर कार्यरत हैं। इसके साथ ही हार्दिक की माता रश्मि उप्रेती गृहणी हैं। हार्दिक को 8 साल की उम्र में लघुकथा और कहानियां लिखने का शौक था। बताया जा रहा है कि हार्दिक अब तक 10 लघुकथा लिख चुके हैं। इसके साथ ही हार्दिक का शौक लेखन के साथ-साथ फुटबाल खेलने में भी है। हार्दिक का फेवरेट सबजेक्ट इतिहास है। इसके साथ ही हार्दिक सोशल साइट्स पर भी काफी लोकप्रिय हैं। उन्होंने यू-ट्यूब पर अपना एचएनजेड गेमिंग चैनल भी लांच कर दिया है। जो लोगों को काफी पसंद आया।

बताया जा रहा है कि हार्दिक का लिखा उपन्यास लोगों को काफी पसंद आ रहा है। आज के दौर में पहाड़ी टैलेंट की दुनियाभर में चर्चाएं हो रही है। इनमें से एक टैलेंट हार्दिक उप्रेती भी है। हार्दिक के बारे में कहा जाता है कि उनमें टैलेंट कूट-कूटकर भरा है। इससे साफ पता चलता है कि उत्तराखंड के बच्चे आने वाले वक्त में किस लेवल पर जाने वाले हैं। उत्तराखंड की भूमि ने देश को ऐसे ऐसे लेखक और कविताओं के रचयिता दिए हैं, जिन्होंने दुनिया में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। इनमें से एक महान कवि सुमित्रा नंदन पंत भी रह चुके हैं, उनकी रचनाओं को आज भी दुनिया सलाम करती है। हार्दिक को देखकर भी कुछ ऐसा लगता है कि आने वाले वक्त में एक बड़ा नाम बनने वाले हैं। राज्य समीक्षा की तरफ से हार्दिक को हार्दिक बधाई। इसी तरह जिंदगी में आगे बढते रहो और उत्तराखंड के साथ साथ पूरे देश का नाम रौशन करो। मंजिलें आपका इंतजार कर रही हैं। जय उत्तराखंड ।


Uttarakhand News: Uttarakhand ten years old hardic wrote novel in english

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें