गढ़वाल राइफल का जवान डेढ़ महीने से लापता, राखी लेकर भाई का इंतजार कर रही है बहन

डेढ़ महीने से लापता जवान धीरज की बहन भाई के हाथ पर राखी बांधना चाहती हैं, उन्हें भाई के लौट आने की उम्मीद है, ईश्वर करे उनकी ये उम्मीद जरूर पूरी हो..देखिए वीडियो

tehri garhwal jawan dheeraj missing update - उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, टिहरी गढ़वाल न्यूज, टिहरी गढ़वाल धीरज, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Tehri Garhwal News, Tehri Garhwal Dheeraj, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

रक्षाबंधन का त्योहार आने वाला है। देशभर की लाखों बहनें इस दिन का इंतजार कर रही हैं। क्योंकि यही वो खास दिन होता है, जब वो अपने भाई के प्रति अपने स्नेह को उनकी कलाई पर रक्षासूत्र बांधकर जताती हैं। टिहरी गढ़वाल की एक बहन भी अपने भाई के लौट आने का इंतजार कर रही है। धौलागिरी गांव के रहने वाले फौजी धीरज की बहन पिछले डेढ़ महीने से भाई की आवाज सुनने को तरस गई हैं। फौजी धीरज पिछले डेढ़ महीने से लापता हैं। पुलिस उनकी खोज में जुटी है, पर सफलता अभी नहीं मिली है। धीरज धौलागिरी गांव के रहने वाले हैं। वो 9वीं गढ़वाल राइफल का हिस्सा हैं। पिछले डेढ़ महीने से धीरज लापता हैं। जब से धीरज लापता हुए हैं, तब से उनके घरवाले बैचेन हैं। माता-पिता दुखी हैं, बेटे की तलाश में यहां-वहां भटक रहे हैं। प्रशासन से लेकर पुलिस तक के सामने हाथ जोड़ चुके हैं। जवान धीरज की बहन भी भाई की सलामती की दुआ मांग रही है। आगे देखिए वीडियो

यह भी पढें - देहरादून SSP ने पुलिसकर्मियों को दी सख्त चेतावनी, ‘नशे में धुत मिले तो खैर नहीं’
धीरज की बहन कहती हैं कि बस मेरा भाई लौट आए, यही मेरे लिए रक्षाबंधन का सबसे बड़ा तोहफा होगा। वो हर वक्त भाई की तस्वीर निहारती रहती हैं, भगवान से भाई की सलामती के लिए प्रार्थना करती हैं। जवान धीरज के परिजनों का कहना है कि वो इस मामले में सीएम से लेकर प्रशासन तक, हर किसी से मदद की गुहार लगा चुके हैं, पर कार्रवाई अब तक नहीं हुई। धीरज का परिवार इस वक्त किस तकलीफ से गुजर रहा है, इसका आप और हम अंदाजा भी नहीं लगा सकते। जी न्यूज का ये वीडियो देखिए

टिहरी:फौजी की बहन को है भाई का इंतजार, ड्यूटी से घर लौटते वक्त हुआ था लापता!

Video-zee up uttrakhand

Posted by अपना गढ़वाल on Monday, August 12, 2019

धीरज पिछले साल ही फौज में भर्ती हुए थे। इस वक्त उनकी तैनाती अरुणाचल और असम के बीच स्थित सिलीगुड़ी में थी। 23 जून को वो छुट्टी लेकर घर के लिए निकले थे, लेकिन घर पहुंचे नहीं। धीरज ने 13 जुलाई तक की छुट्टी ली हुई थी। 13 जुलाई को जब धीरज ड्यूटी पर नहीं लौटे, तब यूनिट ने उनके घर पर फोन किया। धीरज के छुट्टी पर जाने की बात सुन घरवाले दंग रह गए, क्योंकि धीरज घर आए ही नहीं थे। धीरज रास्ते से ही गायब हो गए। उनके लापता होने की खबर सुन परिवारवालों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। धीरज का अब भी कोई सुराग नहीं लगा है। धीरज की बहन और उनके माता-पिता लाडले के घर लौट आने की बाट जोह रहे हैं।


Uttarakhand News: tehri garhwal jawan dheeraj missing update

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें