देवभूमि को संवारने के लिए साथ में आए ये दिग्गज...शुरू हो गया है महाअभियान

पहाड़ से पलायन को रोकने के लिए देश के ये दिग्गज साथ में जुड़ गए हैं, पहाड़ में महाअभियान शुरू हो गया है, आप भी इस मुहिम से जुड़ें...

anil baluni apna vote apne gaon - अनिल बलूनी, अनिल बलूनी बिपिन रावत, अनिल बलूनी अजीत डोभाल, अनिल बलूनी राजेन्द्र सिंह, Anil Baluni, Anil Baluni Bipin Rawat, Anil Baluni Ajit Doval, Anil Baluni Rajendra Singh, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

याद कीजिए पहाड़ में बिताए हुए वो दिन, जो आपकी जिंदगी के सबसे खूबसूरत दिन हुआ करते थे। हिसालू-किलमोड़े, काफल तोड़ते-बीनते दिन कब गुजर जाता था, पता ही नहीं चलता था। आज पहाड़ की जो दुर्दशा है, वो किसी से छिपी नहीं है। घर-पुंगड़े उजाड़ हो गए हैं, उरख्यली-गंज्याली अब भी अपनों के आने की बाट जोह रही, जंदेरू टूटे घर के कोने में पड़ा उन हाथों का इंतजार कर रहा है, जो उसे प्यार से...अपनेपन से चलाया करते थे। हिमालय की बर्फ पिघलने लगी है, लेकिन पहाड़ियों से एक बार पहाड़ जो छूटा तो फिर छूट ही गया। पलायन की पीड़ा पहाड़ और पहाड़ियों से बेहतर भला कौन समझ सकता है। शुक्र है कि अब पहाड़ को जनप्रतिनिधियों और अफसरों के रूप में ऐसे लाल मिले हैं, जो कि पहाड़ से पलायन को खत्म करने के लिए साथ खड़े हैं। सांसद अनिल बलूनी ने पहाड़ से पलायन खत्म करने के लिए एक अभियान शुरू किया है, जिससे एनएसए अजीत डोभाल, बिपिन रावत और कोस्ट गार्ड के डीजी राजेंद्र सिंह जुड़ गए हैं।

1/6 अपना वोट-अपने गांव
anil baluni apna vote apne gaon

इस अभियान को नाम दिया गया है ‘अपना वोट-अपने गांव’.. इस अभियान के तहत दूसरे क्षेत्रों में बसे पहाड़ियों से अपना वोट अपने गांव में स्थानांतरित करने की अपील की जा रही है। इसी बहाने उन्हें अपने पैतृक गांवों से जुड़ने का मौका मिलेगा।

2/6 जुड़ रहे हैं कई दिग्गज
anil baluni apna vote apne gaon

सांसद अनिल बलूनी अपना नाम पहले ही अपने गांव की मतदाता सूची में दर्ज करा चुके हैं। अब इस अभियान से एनएसए अजीत डोभाल, थल सेनाध्यक्ष बिपिन रावत और कोस्ट गार्ड के डीजी राजेंद्र सिंह भी जुड़ गए हैं।

3/6 अजीत डोभाल ने दिया भरोसा
anil baluni apna vote apne gaon

हाल ही में जब सांसद अनिल बलूनी ने एनएसए अजीत डोभाल से इस संबंध में चर्चा की तो उन्होंने आश्वासन दिया कि वो अपने पैतृक गांव से हमेशा जुड़े रहेंगे। उन्होंने अपना वोट अपने मूलगांव में स्थानांतरित करने का भी आश्वासन दिया।

4/6 साथ में जुड़े बिपिन रावत
anil baluni apna vote apne gaon

सेना प्रमुख बिपिन रावत भी अपना वोट उत्तराखंड में स्थानांतरित करने की बात कह चुके हैं। उन्होंने इस पहल का स्वागत किया और अभियान के संदेश को सराहा। थल सेनाध्यक्ष ने कहा कि पहाड़ों को स्वरोजगार के जरिए आबाद किया जाना चाहिए, ताकि हमारी महान परंपराएं जीवित रह सकें।

5/6 राजेंद्र सिंह पहाड़ में ही घर बनवाएंगे
anil baluni apna vote apne gaon

कोस्ट गार्ड के डीजी राजेंद्र सिंह तो पहाड़ के चकराता में अपना घर भी बनवा रहे हैं, ताकि वो अपनी जड़ों से जुड़े रह सकें। कुल मिलाकर ‘अपना वोट-अपने गांव’अब अभियान नहीं रहा, महाअभियान बन गया है।

6/6 अब आप भी जुड़िए
anil baluni apna vote apne gaon

अच्छी बात ये है कि ऊंचे ओहदों पर बैठे लोगों को भी खाली होते पहाड़ की, अपने गांव की चिंता है। प्रवासी उत्तराखंडियों को भी इस अभियान से जोड़ा जा रहा है। ठोस रणनीति होगी और जनप्रतिनिधि जागरूक होंगे, तो निश्चय ही इस अभियान को सफलता मिलेगी। पहल शुरू हो गई है, उम्मीद है इसके अच्छे नतीजे जल्द ही देखने को मिलेंगे।


Uttarakhand News: anil baluni apna vote apne gaon

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें