उत्तराखंड: फौज में नौकरी के नाम पर युवती से 1 लाख ठगे...शातिर बाप-बेटी पर केस दर्ज

कॉल सेंटर में काम करने वाली अमिता से दिल्ली के रहने वाले शातिर ठगों ने 1 लाख रुपये ठग लिए, पीड़ित ने अब पुलिस से मदद मांगी है।

DEHRADUN FRAUD CASE AMITA NEGI - उत्तराखंड, देहरादून अमिता नेगी, देहरादून ठगी, उत्तराखंड युवा फौज, देहरादून में ठगी, Uttarakhand, Dehradun Amita Negi, Dehradun Thugi, thug in DEHRADUN,  Uttarakhand youth army, Dehradun THUG, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

सावधान हो जाइए, सतर्क रहिए, कोई नौकरी दिलाने के नाम पर पैसे मांगे तो पुलिस को सूचना दीजिए...पुलिस और प्रशासन ये बोल-बोलकर थक गए, लेकिन लोग हैं कि सुनने को तैयार नहीं। सरकारी नौकरी खासकर फौज में जाने की चाह युवाओं में कुछ इस कदर है कि वो सही-गलत जैसे भी हो बस नौकरी पा जाना चाहते हैं। उनकी इसी चाहत को ठगों ने अपना धंधा बना लिया है, ठग लूट रहे हैं और बेरोजगार युवा लुट रहे हैं। ऐसा ही मामला सामने आया है देहरादून में जहां ठग पिता-बेटी ने एक युवती से फौज में नौकरी दिलाने के नाम पर 1 लाख रुपए ठग लिए। नौकरी तो मिली नहीं, जो एक लाख रुपए बचाकर रखे थे वो भी चले गए। अब पीड़ित ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने आरोपी पिता-बेटी की जोड़ी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पूरा मामला है क्या, ये भी आपको बता देते हैं। पीड़ित अमिता नेगी, देहरादून के विद्या विहार की रहने वाली है। वो ट्रांसपोर्टनगर के एक कॉल सेंटर में काम करती है। यहीं उसकी मुलाकात दिल्ली की रहने वाली हिमांशी बलोदी से हुई थी। आगे पढ़िए

यह भी पढें - देवभूमि में 9 साल की बच्ची से हैवानियत..वो हाथ जोड़ती रही, दरिंदे को दया नहीं आई
अमिता का आरोप है कि हिमांशी ने उन्हें बताया था कि उसके पिता राजेंद्र नेवी में अधिकारी हैं। हिमांशी ने युवती को झांसा दिया कि अगर वो पैसों का इतंजाम कर ले तो उसके पिता अमिता को फौज में क्लर्क की नौकरी दिला देंगे। हिमांशी ने बताया था कि उसके पिता की बड़े-बड़े अधिकारियों से जान-पहचान है। फौज में नौकरी लगने की बात सुन अमिता भी झांसे में आ गई, पर उसके पास पैसे नहीं थे। तब हिमांशी ने ही अमिता को कहा कि वो लोन लेकर रकम उसे दे दे। फौज में नौकरी का सपना देख रही अमिता ने ऐसा ही किया भी। बीते दिसंबर महीने की अलग-अलग तारीखों में रकम हिमांशी के खाते में ट्रांसफर कर दी गई। इस दौरान अमिता की हिमांशी के पिता राजेंद्र से फोन पर बात भी हुई। आरोपी राजेंद्र ने अमिता को कहा कि वो कंप्यूटर कोर्स कर ले तो उसकी नौकरी लगवा देगा। अमिता ने कोर्स भी किया, लेकिन कई महीने बीत जाने के बाद भी जब नौकरी नहीं मिली, तब कहीं जाकर अमिता को अपने साथ हुई ठगी का अहसास हुआ। अमिता ने दोनों से एक लाख रुपए मांगे तो आरोपी उसे धमकाने लगे, जिसके बाद अमिता ने पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने दिल्ली के रहने वाले पिता-बेटी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जांच जारी है। हमारी आपसे भी अपील है कि नौकरी के लालच में अपने रुपये ना गंवाएं, ठगों से बचकर रहें और ऐसे लोगों के खिलाफ पुलिस को सूचना दें।


Uttarakhand News: DEHRADUN FRAUD CASE AMITA NEGI

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें