पहाड़ में भीषण हादसे से मातम..शिक्षक की मौत..अब दो बेटियों को कौन पालेगा?

उस पिता ने भी अपनी बेटियों के लिए कई सपने संजोए होंगे। लेकिन अब पिता इस दुनिया में नहीं हैं...दो बेटियां अकेली रह गईं।

teacher died in an accident in pithoragarh - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, पिथौरागढ़ न्यूज, पिथौरागढ़ एक्सीडेंट, पिथौरागढ़ कार एक्सीडेंट,Uttarakhand, Uttarakhand News, Pithoragarh News, Pithoragarh Accident, Pithauragarh Car Accident, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

बेटियां हर पिता की सबसे लाडली होती हैं। लेकिन पहाड़ में एक दर्दनाक हादसे ने दो बेटियों से उनके पिता को छीन लिया। परिवार में मातम पसरा हुआ है, जो भी इस दुर्घटना के बारे में सुन रहा है, वो दुखी है। पहाड़ में सड़कों के हाल ऐसे हैं कि आए दिन हादसे हो रहे हैं। आखिर इन बढ़ते हादसों पर लगाम लगे तो लगे कैसे ? आए दिन सड़क पर बिछती लाशें और घर-परिवारों में मचता कोहराम थमने का नाम नहीं ले रहा। खासतौर पर पहाड़ों में सफर और भी ज्यादा खतरनाक होता जा रहा है। एक बार फिर से एक भीषण हादसा हुआ है, जिसमें शिक्षक धीरज बनकोटी की मौत हो गई। ये हादसा पिथौरागढ़ के गणाई से बनकोट के रास्ते पर हुआ। कार अनियंत्रित होकर 500 मीटर गहरी खाई में समा गई। बताया जा रहा है कि बनकोट के रहने वाले शिक्षक धीरज बनकोटी बागेश्वर जनपद के कपूरी क्षेत्र के जूनियर हाईस्कूल में तैनात थे। उनके परिवार में उनकी दो बेटियां हैं और सभी के मन में सवाल ये है कि आखिर अब इन बच्चियों का पोलन-पोषण कैसे होगा। आगे पढ़िए पूरी खबर

यह भी पढें - उत्तराखंड: पत्नी की हत्या के लिए पति ने दी साढ़े सात लाख रुपये की सुपारी
अब तक मिली जानकारी के मुताबिक एक आइटेन कार UK-02-A-3848 गुरूवार को गणाई से बनकोट की तरफ जा रही थी। सफर चलता जा रहा था कि तभी एक बुरी खबर आ गई। दोपहर 2.35 बजे के करीब गणाई से चार किलोमीटर आगे क्वीड़ाधार नाम की जगह पर कार अनियंत्रित हो गई और करीब 500 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। जिसने भी ये भयावह मंजर देखा, उसके होश उड़ गए। कार को शिक्षक धीरज बनकोटी चला रहे थे। धीरज बनकोटी ग्राम बनकोट के रहने वाले थे। उनके साथ कार में एक और शख्स सवार था, उसकी भी मौके पर ही मौत हो गई। कार दुर्घटनाग्रस्त हुई तो सनसनी फैल गई, तुरंत ही पुलिस को इस बारे में खबर की गई। सूचना मिलते ही बेरीनाग और सेराघाट से पुलिस टीम मौके पर पहुंची। तुरंत रेस्क्यू ऑपरेशन चलाा गया। ग्रामीणों की मदद से शवों को खाई से बाहर निकाला गया। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। हादसे का समाचार मिलते ही बनकोट और गणाई क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई।


Uttarakhand News: teacher died in an accident in pithoragarh

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें