उत्तराखंड: अगले 24 घंटे आंधी-ओलावृष्टि का अलर्ट...7 जिलों के लोग सावधान रहें

पहाड़ों में मौसम ने एक बार फिर करवट बदली है...आने वाले 24 घंटों में कई इलाकों में धूल भरी आंधी चलने के साथ ही ओलावृष्टि की संभावना है।

weather rain and hailstrom forecast for uttarakhand - उत्तराखंड, उत्तराखंड मौसम, उत्तराखंड न्यूज, उत्तराखंड बारिश, उत्तराखंड आंधी, उत्तराखंड ओलावृष्टि,Uttarakhand, Uttarakhand weather, Uttarakhand News, Uttarakhand rain, Uttarakhand storm, Uttarakhand ha, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उत्तराखंड के मौसम में तेजी से बदलाव हो रहे हैं। शुक्रवार को धूल भरी आंधी ने लोगों को खूब परेशान किया, आज भी प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में बारिश के साथ ही ओलावृष्टि हो सकती है। मौसम विभाग ने पहाड़ों में बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी दी है। इसके साथ ही तेज आंधी आ सकती है, ऐसे में लोगों को संभलकर रहने की जरूरत है। शुक्रवार की शाम एक बार फिर मौसम ने करवट बदलनी शुरू कर दी। तेज धूल भरी आंधी के चलते विजिबिलिटी कम हो गई, जिस वजह से वाहनचालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा। शाम को हल्की बारिश भी हुई, बारिश होने के बाद गर्मी से परेशान लोग राहत महसूस कर रहे हैं। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि अगले 24 घंटे में मैदानी क्षेत्रों में कहीं-कहीं 80 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं, और बारिश हो सकती है। आगे जानिए किन जिलों के लोगों को सावधान रहने की जरूरत है।

यह भी पढें - पहाड़ में शादी की खुशियों के दौरान पसरा मातम..भीषण हादसे में दूल्हे के पिता की मौत
उधर पहाड़ों में ओलावृष्टि और बारिश की संभावना है। खासतौर पर देहरादून, हरिद्वार, उधमसिंह नगर के लोगों को आंधी से सावधान रहने की जरूरत है। इसके अलावा रुद्रप्रयाग, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, उत्तरकाशी जैसे जिलों के लोगों को ओलावृष्टि से भी जूझना पड़ सकता है। मौसम विज्ञान केंद्र का पूर्वानुमान है कि आने वाले 24 घंटे में मैदान से लेकर पर्वतीय क्षेत्रों मे कहीं-कहीं ओलावृष्टि, मैदानों में 80 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से आंधी-तूफान आ सकता है। तेज अंधड़ से लोगों को बच कर रहने की जरूरत है। शुक्रवार को आए अंधड़ ने प्रदेश के कई हिस्सों में खूब तबाही मचाई है। जगह-जगह धूल के गुबार उठने और टहनियों के टूटकर बिजली की लाइनों पर गिरने से कई क्षेत्रों में बिजली गुल हो गई। आगे जानिए कुछ और भी खास बातें

यह भी पढें - उत्तराखंड के BSF जवान की ड्यूटी के दौरान मौत, गम में डूबा गांव
भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, शनिवार (11 मई) से एक पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के आसार हैं। इस दौरान धूल भरी आंधी भी चलेगी और गर्जन वाले बादल भी बनेंगे। मौसम विभाग ने 11 मई से लेकर 15 मई तक उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में आसमानी बिजली कड़कने के साथ ही रुक-रुक कर आंधी और बारिश की आशंका जाहिर की है। आंधी-पानी के साथ ही कई जगहों पर बिजली गिर सकती है। ये स्थिति 12,13 और 14 मई को भी बनी रहेगी। गढ़वाल और कुमाऊं दोनों इलाकों में मध्यम दर्जे की बारिश होने की पूरी संभावना है। बारिश का सिलसिला 18 मई तक जारी रह सकता है। ऐसे में संभलकर रहें, पहाड़ों की यात्रा करते वक्त सावधान रहें। चारधाम क्षेत्र में भी मौसम बदला है, यहां शुक्रवार को हल्के बादल छाए रहे। बदरीनाथ के कपाट खुलते वक्त मौसम साफ रहा, हालांकि शाम के वक्त एक बार फिर केदारनाथ की चोटियों पर बर्फबारी हुई।


Uttarakhand News: weather rain and hailstrom forecast for uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें