उत्तराखंड: छुट्टी लेकर घर आ रहा था सेना का जवान..बीच रास्ते में हुई मौत

छुट्टी पर घर लौट रहे सेना के जवान की बस में मौत हो गई। जवान की मौत के बाद गांव में मातम पसरा है।

army javaan ramesh singh majila dies in bus bageshwar - रमेश सिंह माजिला, उत्तराखंड, जवान, ramesh singh majila, बागेश्वर, bageshwar, हल्द्वानी, haldwani, केएमओ, KMO, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

बागेश्वर के रहने वाले सेना के एक जवान की घर लौटते वक्त बस में मौत हो गई। जवान की मौत के बाद क्षेत्र में मातम पसरा है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। 55 वर्षीय जवान रमेश सिंह माजिला कांडा तहसील के जोगाबाड़ी गांव के रहने वाले थे। वो असम राइफल्स में तैनात थे। रमेश सिंह सेना से छुट्टी लेकर अपने परिवार के पास आ रहे थे, सोचा था कि परिजनों के साथ कुछ वक्त बिताएंगे, लेकिन होनी को कुछ और ही मंजूर था। रमेश घर लौटे तो जरूर, लेकिन तब तक उनकी सांसें थम चुकी थीं। घर वाले बेसब्री से उनके लौटने का इंतजार कर रहे थे। जैसे ही घर पर जवान की मौत की खबर पहुंची वहां कोहराम मच गया। जवान अपने पीछे भरापूरा परिवार छोड़ गए हैं। उनकी दो बेटियों और एक बेटे की शादी हो गई है। बेटा दिल्ली में नौकरी करता है जबकि सबसे छोटी बेटी बीएससी की पढ़ाई कर रही है।

यह भी पढें - उत्तराखंड: रोडवेज बस में शराबियों ने काटा बवाल...लड़कियों से की अभद्रता
बताया जा रहा है कि रमेश सिंह माजिला हल्द्वानी से केएमओ की बस में सवार हुए, ये बस ताकुला में रुकी जहां उन्होंने एक होटल में खाना खाया। जब बस बागेश्वर पहुंची तो चालक-परिचालक ने देखा की रमेश बस से उठे नहीं हैं। उन्होंने जवान को उठाने की कोशिश की तो वो एक तरफ लुढ़क गए, जिसके बाद ड्राइवर ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। पुलिस दलबल के साथ पहुंची और एंबुलेंस के जरिए उन्हें जिला अस्पताल पहुंचाया गया। जहां डाक्टरों ने जवान को मृत घोषित कर दिया। परिजनों ने बताया कि इस वक्त रमेश सिंह नागालैंड में तैनात थे। उनके बड़े बेटे को फोन पर सूचना दे दी गई है। पुलिस पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपने की तैयारी कर रही है। जवान का मंगलवार को सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।


Uttarakhand News: army javaan ramesh singh majila dies in bus bageshwar

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें