loksabha elections 2019 results

उत्तराखंड शहीद की बेटी..पुलवामा हमले में पिता को खोया, फिर भी अच्छे नंबरों से पास की बोर्ड परीक्षा

पुलवामा हमले में शहीद होने वाले मोहनलाल रतूड़ी की बिटिया गंगा ने अच्छे नंबर से 12वीं पास की है।

Shaheed mohan lal raturi daughter - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, मोहनलाल रतूड़ी, उत्तराखंड शहीद, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Mohanlal Rathudi, Uttarakhand Shaheed, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

14 फरवरी का वो मनहूस दिन देशवासी कभी नहीं भुलेंगे, जब पुलवामा में हुए आतंकी हमले में देश ने 40 जवान खो दिए थे...दून के रहने वाले मोहनलाल रतूड़ी भी इन शहीदों में शामिल थे, उनकी मौत के बाद परिवार बिलख रहा था...इसी बीच बेटी गंगा ने ये फैसला कर लिया कि भले ही अब दुनिया में उसके पिता ना हों, लेकिन उनके पिता का सपना हमेशा जिंदा रहेगा...जिसे वो हर हाल में पूरा कर दिखाएंगी। पिता की मौत का गम होने के बाद भी गंगा ने खूब मेहनत की और 12वीं की परीक्षा अच्छे अंकों से पास की। गंगा की इस उपलब्धि पर उनके पूरे परिवार को गर्व है। शहीद मोहनलाल रतूड़ी की बेटी गंगा ने सीबीएसई से 12वीं पास करने के बाद कहा कि वह अब अपने पिता की इच्छा पूरी करेंगी। दरअसल गंगा को गायन का शौक है, लेकिन पिता चाहते थे कि गंगा बड़ी होकर डॉक्टर बने, यही वजह है कि गंगा अब अपना शौक पूरा करने की बजाय पिता का सपना पूरा करने में जुटी है।

बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी कर रही गंगा के लिए 14 फरवरी का दिन ऐसा दुर्भाग्य लेकर आया कि मानों उसकी पूरी दुनिया ही उजड़ गई...आतंकी हमले में पिता के शहीद होने के बाद इस परिवार के लिए वक्त मानों ठहर सा गया। एक तरफ गंगा की परीक्षा सिर पर थी और उस पर पिता को खोने का गम....गंगा जैसे बच्चों के दर्द को समझते हुए सीबीएसई ने भी उनकी परीक्षा के विशेष इंतजाम किए थे। यह भी पढें - पुलवामा में शहीद हुआ देवभूमि का वीर सपूत, उत्तराखंड में शोक की लहर!
बायोलॉजी, हिंदी और फिजिकल एजुकेशन की परीक्षाएं तो गंगा ने सभी छात्रों के साथ दी लेकिन फिजिक्स, केमिस्ट्री और इंग्लिश की परीक्षा के लिए सीबीएसई ने बाद में इंतजाम कराया। दो मई को बोर्ड का परिणाम आया तो गंगा ने परीक्षा 68.8 प्रतिशत अंकों के साथ पास कर ली। गंगा याद करती हैं कि पिता अक्सर कहा करते थे कि बेटी जब तू डॉक्टर बन जाएगी तो पहली दवा मैं लूंगा...गंगा ने अब ठान लिया है कि चाहे जो हो जाए वो डॉक्टर बन कर रहेगी, और पिता को दिया वचन निभाएगी। इस वक्त गंगा कोटा में कोचिंग की तैयारी कर रही है। गंगा को 12वीं पास करने के लिए ढेर सारी शुभकामनाएं...तुम यूं ही आगे बढ़ती रहो गंगा।


Uttarakhand News: Shaheed mohan lal raturi daughter

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें