loksabha elections 2019 results

पुलवामा में उरी से भी खतरनाक हमला..देश के 44 जवान शहीद हो गए

आज जरूरत है कि एक नहीं 10-10 सर्जिकल स्ट्राइक की जाएं...पाकिस्तान को उसी के घर में घुसकर रौंदने की जरूरत है। अब बात नहीं...युद्ध की जरूरत है।

44 jawan martyred in pulwama - उरी हमला, पुलवामा हमला, पुलवामा आतंकी हमला, सीआरपीएफ, सीआरपीएफ आतंकी हमला, Uri attack, Pulwama attack, Pulwama terror attack, CRPF, CRPF terror attack, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

उन बसों में ...कोई आपस में मज़ाक कर रहा होगा, कोई फ़ौजी आज वैलेंटाइन डे पर अपनी मुहब्बत से नए वादे कर रहा होगा, कोई फ़ोन पर मां से कह रहा होगा कि जल्द ही वापस आऊंगा..और फिर एक धमाके के शोर में सब ख़ामोश। इंसान की ज़िंदगी क्या है ये सोचते ही डर लगता है। CRPF के 44 शहीद जवानों के खुर्द बुर्द जिस्मों को एक साथ देखकर देश रो रहा है। उन लाशों पर एक साथ 44 माओं, बहनों, पत्नियों और प्रेमिकाओं के विलाप और सिसकियों को महसूस भर करके देखिए...रूह तक कांप उठेगी आपकी। जो हमारी हिफाज़त में लगे रहते हैं उन्हें ख़ुद हिफाज़त की सख़्त ज़रूरत है।और ज़रूरत है इस बार जंगली जानवर आतंकवादियों के ख़िलाफ़ कुछ बड़ा करने की। जम्मू कश्मीर से आज की सबसे बड़ी खबर सामने आ रही है। आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के हमले में घाटी में अब तक कम से कम 44 जवानों के शहीद होने की खबर है।

यह भी पढें - 7 दिन पहले ही आतंकी हमले का अलर्ट मिला था
JNK में ये उरी से भी ज्यादा भीषण हमला है, जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार शाम हुए इस बड़े आतंकी हमले में 44 जवानों के शहीद होने की खबर है। श्रीनगर-जम्मू हाइवे पर अवंतीपोरा इलाके में आतंकियों ने सीआरपीएफ के एक काफिले पर अटैक किया। हमले के बाद से ही दक्षिण कश्मीर के कई इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। इस आतंकी हमले के बाद आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इसकी जिम्मेदारी ली है। बताया जा रहा है कि अवंतिपोरा के गरीपोरा के पास आतंकी घात लगाकर बैठे थे। आतंकियों ने इस इलाके में पहले हाइवे पर आईईडी लगाई और ब्लास्ट किया। इसके बाद सीआरपीएफ जवानों के वाहनों पर ऑटोमैटिक हथियारों से जबरदस्त फायरिंग की गई। इसके बाद सीआरपीएफ का वाहन भी आईईडी ब्लास्ट की चपेट में आया। बताया जा रहा है कि इस हमले में 44 से ज्यादा जवान हो गए हैं।

यह भी पढें - पुलवामा में उरी से ज्यादा खतरनाक हमला
इसके अलावा कई जवानों को श्रीनगर के हॉस्पिटल में शिफ्ट करने का काम शुरू किया गया है। इससे पहले अस्पताल ले जाते समय 44 जवान शहीद हो गए थे। दो दर्जन से ज्यादा जवानों जवानों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अब पुलवामा में मौजूद सेना, जम्मू-कश्मीर पुलिस और सीआरपीएफ की कई कंपनियों को अवंतिपोरा भेजा गया है। अवंतिपोरा और आसपास के इलाकों में बड़ा सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया है। शोपियां, पुलवामा, कुलगाम और श्रीनगर में हाई अलर्ट जारी किया गया है। एजेंसियों के अधिकारी लगातार हालात पर नजर बनाए हुए हैं।



Uttarakhand News: 44 jawan martyred in pulwama

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें