loksabha elections 2019 results

चार धाम रेल नेटवर्क: 2024 तक पहाड़ में पहुंचेगी रेलगाड़ी, CM त्रिवेंद्र ने बताई खास बातें

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ऋषिकेश-कर्णप्रयाग परियोजना के काम का जायजा लिया। उन्होंने अधिकारियों को तय समय पर काम पूरा करने के निर्देश दिए।

CM TRIVENDRA SINGH RAWAT ON CHAR DHAM RAIL NETWORK - उत्तराखंड, उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, त्रिवेंद्र सिंह रावत, चार धाम रेल नेटवर्क, केदरनाथ रेल रूट, बदरीनाथ रेल रूट, Uttarakhand, Uttarakhand News, Latest Uttarakhand News, Trivandrum Singh Rawat, Char Dham Rail Network, Kedarnath Rail Route, Badrinath Railway Route, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना का काम प्रगति पर है। केंद्र की मोदी सरकार के साथ साथ राज्य की त्रिवेंद्र सरकार परियोजना को लेकर गंभीर है। सरकार तय वक्त पर पहाड़ में रेल पहुंचाने के लिए कोशिश में जुटी है तो वहीं पहाड़वासी रेल परियोजना का काम पूरा होने का इंतजार कर रहे हैं। उधर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि साल 2024 तक पहाड़वासियों का ये सपना पूरा हो जाएगा, कुछ सालों बाद वो पहाड़ में ट्रेन से सफर तय कर सकेंगे। ये महत्वाकांक्षी परियोजना केंद्र और राज्य सरकार के ड्रीम प्रोजक्ट में शामिल है। षिकेश दौरे पर आए मुख्यमंत्री ने ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना के तहत निर्माणाधीन न्यू ऋषिकेश रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया। उन्होंने रेल अंडरपास के लिए भूमि पूजन कर, रेल निर्माण निगम के अधिकारियों के साथ बैठक की।

यह भी पढें - चार धाम रेल नेटवर्क: पहाड़ी शैली में बनेंगे स्टेशन, श्रीनगर में मां राजराजेश्वरी रेलवे स्टेशन
सीएम त्रिवेंद्र ने कहा कि साल 2024 तक हर हाल में पहाड़ में रेल पहुंच जाएगी। उन्होंने ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना को लेकर कहा कि परियोजना पर काम की प्रगति शानदार है। बैठक में रेल निर्माण निगम के अधिकारियों से मुख्यमंत्री रावत ने परियोजना के काम की प्रगति पर चर्चा की। बाद में पत्रकारों से मुखातिब होते हुए उन्होंने कहा कि परियोजना पर चल रहे काम की प्रगति शानदार है, आगे और भी तेजी से काम होगा। परियोजना का काम युद्धस्तर पर किया जा रहा है, बजट की कमी नहीं है, उम्मीद है कि 2024 तक पहाड़ के लोग रेल का सफर कर पाएंगे। मुख्यमंत्री ने बहुप्रतीक्षित जानकी सेतु का भी निरीक्षण किया। ये भी महत्वपूर्ण परियोजना है। जानकी सेतु के जरिए टिहरी और पौड़ी आपस में जुड़ जाएंगे। पुल के निर्माण के लिए 35 करोड़ 53 लाख रुपये का बजट मिला है।

यह भी पढें - चार धाम रेल नेटवर्क: ऋषिकेश रेलवे स्टेशन में दिखेगी केदारनाथ धाम की झलक..देखिए
इससे जानकी सेतु मुनि की रेती के पूर्णानंद घाट से वेद निकेतन तपोवन जुड़ जाएगा। मुख्यमंत्री ने नमामि गंगे प्रोजेक्ट के तहत लक्कड़घाट में बन रहे 26 एमएलडी के सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का भी जायदा लिया। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से बातचीत कर प्रोजेक्ट का काम समय पर पूरा करने के निर्देश दिए।

ऋषिकेश में निर्माणाधीन जानकी सेतु, ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलवे लाइन परियोजना एवं नमामि गंगे योजना के कार्यों का स्थलीय...

Posted by Trivendra Singh Rawat on Saturday, February 9, 2019


Uttarakhand News: CM TRIVENDRA SINGH RAWAT ON CHAR DHAM RAIL NETWORK

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें