पहाड़ के युवाओं का बेमिसाल काम, दिल्ली में रहकर भी पहाड़ से जुड़े...जलाई शिक्षा की अलख

कुछ खबरें वास्तव में प्रेरणादायक होती हैं। अच्छी खबर ये है कि दिल्ली में रह रहे पहाड़ के कुछ युवाओं ने अपने स्तर पर पहाड़ में शिक्षा के लिए बेहतरीन काम किया है।

Transforming uttarakhand team starts education programme in uttarakhand - उत्तराखंड न्यूज, लेटेस्ट उत्तराखंड न्यूज, ट्रांसफॉर्मिंग उत्तराखंड, uttarakhand news, latest uttarakhand news, transforming uttarakhand, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand

ये बात हर कोई जानता है कि पहाड़ में शिक्षा हासिल कर रहे छात्रों में जबरदस्त हुनर है। उस हुनर को अगर निखारा गया तो विश्व के बड़े बड़े मंचों तक ये बच्चे पहुंच सकते हैं। ऐसे में पहाड़ के छात्रों के बीच जाकर उन्हें भविष्य की योजनाओं से अवगत कराने का जिम्मा लिया है ट्रांसफॉर्मिंग उत्तराखंड ने। ये पहाड़ के कुछ उत्साही युवाओं का एक संगठन है, जिन्होंने पहाड़ में शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के लिए अपने स्तर पर काम करने का बीड़ा उठाया है। इसकी शुरुआत स्याल्दे से की गई,जब ट्रांसफॉर्मिंग उत्तराखंड टीम ने स्याल्दे में करियर काउंसलिंग और पर्सनैलिटी डेवेलपमेंट पर आधारित मेंटोरशिप प्रोग्राम का आयोजन किया। डिग्री कॉलेज स्याल्दे के क़रीब 20 छात्र -छात्राओं को इस प्रोग्राम के तहत जोड़ा गया और उन्हें भविष्य की जरूरी सूचनाओं से अवगत कराया गया।

यह भी पढें - उत्तराखंड में दूल्हा पिट गया, बीच मंडप पर आते ही घरातियों ने जमकर कूटा...देखिये विडियो
इसके लिए एक प्रोग्राम के तहत बच्चों को अलग अलग जानकारियां दी गई।
1-स्टेज पर आने से पहले खुद के अंदर मौजूद डर को कैसे दूर किया जाए
2- कैसे उत्तराखंड को विश्व स्तर पर स्थान देने के लिए हम योगदान कर सकते हैं
3- भविष्य में मार्गदर्शन कैसे करें और कैसे एक कुशल मार्गदर्शक बनें
इसके अलावा छात्रों को उनके करियर से जुड़ी तमाम परेशानियों के हल के बारे में बताया गया। आज हर कोई जानता है कि पहाड़ के बच्चे बड़े स्तर पर तो जा सकते हैं लेकिन वहां पहुंचने के बाद उन्हें किस तरीके से अपनी जिंदगी को नई दिशा देनी है, ये सब कुछ इस प्रोग्राम के तहत बताया गया।
इसके अलावा कन्या पाठशाला की छात्राओं के बीच भी इस प्रोग्राम को किया गया, जिसमें छात्राओं को भी इन तमाम बातों के बारे में जानकारी दी गई।

यह भी पढें - गौरवशाली पल: गढ़वाल रेजीमेंटल सेंटर में 174 जवान भारतीय सेना में शामिल
अब आपको ये भी बताते हैं कि आखिर इस टीम का हिस्सा कौन कौन थे।
1-कीर्ति डंगवाल : नैनीताल से हैं और IIT दिल्ली से पढ़े है अभी नोएडा में एक MNC में उच्च पद पर कार्यरत हैं।
2- भुवन चतुर्वेदी : भुवन कोटसारी से हैं। उन्होंने अपनी पढ़ाई देघाट से की है और एक अच्छे पद पर कार्यरत हैं। उन्होंने स्किलस ज़ोन की स्थापना की जिस से वो पहले से ही हज़ारों बच्चो को करियर की दिशा में गाइड करते रहे हैं।
3- देवेंद्र सिंह भंडारी: देव छियाणी के हैं तथा अपनी प्राथमिक विध्या मोंटेसरी स्याल्दे से करने के बाद कॉलेज BITS पिलानी राजस्थान से की हैं।
4- मीनाक्षी पांचाल - दिल्ली की रहने वाली है B.tech IGBTU दिल्ली से करने के बाद अभी SBI मे Assistant Manager पोस्ट पर दिल्ली मे कार्यरत है
वास्तव में पहाड़ में कुछ ऐसे काम होते रहने चाहिए, जिनका अच्छा असर पहाड़ के बच्चों पर पड़े।


Uttarakhand News: Transforming uttarakhand team starts education programme in uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें