रुद्रनाथ धाम के कपाट बंद...जानिए कब बंद होंगे केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के कपाट

देवभूमि के चतुर्थ केदार रुद्रनाथ धाम के कपाट विधि विधान से बंद हो गए हैं। ये भी जानिए कि आखिर केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के कपाट कब बंद होंगे।

char dham kapat closing ceremony this year - badrinath, kedarnath, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,केदारनाथ,केदारनाथ धाम,गोपीनाथ,तुंगनाथ,बदरी-केदार मंदिर समिति,बदरीनाथ धामउत्तराखंड,

देवभूमि में मौजूद चतुर्थ केदार यानी रुद्रनाथ धाम के कपाट आज सुबह सात बजे विधि विधान से शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए। रुद्रनाथ भगवान की उत्सव डोली अब पंचगंगा, पित्रधार और पनार होते हुए रात्रि विश्राम के लिए ल्वींटी बुग्याल पहुंचेगी। 18 अक्तूबर को डोली ग्राम पंचायत ग्वाड़ के जाख राजा मंदिर जाएगी और इसके बाद रात्रि प्रवास के लिए सकलेश्वर मंदिर पहुंचेगी। 19 को भगवान रुद्रनाथ की डोली गोपेश्वर स्थित गोपीनाथ मंदिर में विराजमान होगी। इसके अलावा अब आपको बदरीनाथ और केदारनाथ धाम के बारे में भी जानकारी दे देते हैं। केदारनाथ धाम के कपाट भैयादूज के दिन यानी नौ नवंबर को शीतकाल के लिए बंद कर दिए जाएंगे। बताया जा रहा है कि कपाट बंद होने का दिन विजयादशमी के दिन तय होगा।

यह भी पढें - इतिहास में पहली बार केदारनाथ पहुंचे 7 लाख श्रद्धालु..खुशियां मनाई गई, मिठाई बांटी गई
ब्रद्रीनाथ धाम, मदमहेश्वर धाम और तृतीय केदार तुंगनाथ धाम के कपाट बंद होने की तिथि भी विजयादशमी को घोषित होगी। 19 अक्तूबर को बद्रीनाथ मंदिर परिसर में सुबह 11 बजे से रावल ईश्वरी प्रसाद नंबूदरी, मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह समेत वेदपाठियों और हक-हकूकधारियों की उपस्थिति में बदरीनाथ धाम के कपाट बंद होने की तिथि का निर्धारण किया जाएगा। श्री बदरी-केदार मंदिर समिति के मीडिया प्रभारी डॉ. हरीश गौड़ ने इस बारे में जानकारी दी है। बदरीनाथ मंदिर परिसर में 19 अक्टूबर की सुबह पंचांग गणना होगी। इसके बाद कपाटबंदी की तिथि तय होगी। बदरीनाथ धाम से आद्यगुरु शंकराचार्य की गद्दी के जोशीमठ पहुंचने का कार्यक्रम भी तय होगा। इसके अलावा उद्धवजी और कुबेरजी के पांडुकेश्वर आगमन का भी कार्यक्रम तय होगा।

यह भी पढें - Video: देवभूमि की उषा देवी..परंपराओं को तोड़ा, हाथ में ढोल थामा और रच दिया इतिहास
हालांकि इस बार चार धाम यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में गजब का उत्साह देखने को मिला। इस साल अब तक 16 लाख 71 हजार 363 यात्री बदरीनाथ और केदारनाथ धाम के दर्शन कर चुके हैं। बीते साल ये संख्या 13 लाख 91 हजार 699 थी। सोमवार तक करीब नौ लाख 67 हजार 636 यात्री बदरीनाथ धाम के दर्शन कर चुके हैं। वहीं अब तक सात लाख तीन हजार 727 यात्री केदारनाथ पहुंच चुके हैं। फिलहाल अभी कपाट बंद होने में काफी वक्त बचा है और माना जा रहा है कि केदारनाथ धाम में ये संख्या इस बार साढ़े सात लाख को पार कर सकती है। इस साल कपाट खुलने के दिन से ही केदारनाथ यात्रा को लेकर एक गजब की उमंग देखने को मिली थी। पहले ही दिन केदारनाथ धाम में 25 हजार से ज्यादा श्रद्धालु पहुंच गए थे।


Uttarakhand News: char dham kapat closing ceremony this year

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें