उत्तराखंड के पूनम पांडे हत्याकांड में पुलिस को मिले अहम सुराग, एक वीडियो भी मिला

उत्तराखंड के पूनम पांडे हत्याकांड में पुलिस को मिले अहम सुराग, एक वीडियो भी मिला

poonam panday murder mistry haldwani  - halwani, poonam panday murder, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,उत्तराखंड,

हल्दवानी हरिपुर पूर्णानंद गांव में डकैतों ने एक खौफनाक वारदात को अंजाम दिया और पूरे उत्तराखंड में ये खबर आग की तरह फैल गई। पहले डकैतों ने बड़ी बेरहमी से घर में मौजूद पूनम पांडे की धारदार हथियार से हत्या कर दी। इसके बाद पूनम पांडे की बेटी अर्शा ने इसका विरोध किया तो उसके चेहरे पर घूसों से वार किया गया। पीट-पीटकर अर्शा को अधमरा किया गया। इसके बाद लुटेरों ने अलमारी का ताला तोड़ा। यहां से 70 हजार रुपये, दोनाली लाइसेंसी बंदूक, जेवर और स्कूटी उठाकर बदमाश चले गए। इन हैवानों ने घर में मौजूद पालतू कुत्ते को भी मार डाला। पुलिस ने इस वारदात के खुलासे के लिए सात थानों की पुलिस को लगाया है। बताया जा रहा है कि पुलिस के हाथ अस मामले में कुछ अहम सुराग लगे हैं। इसके अलावा पुलिस को एक वीडियो भी मिला है। आइए इस बारे में जानते हैं।

यह भी पढें - उत्तराखंड में क्रूरता की हदें पार, पूनम पांडे हत्याकांड से सहम गई देवभूमि
जांच में पता चला है कि डकैत मकान के मुख्य दरवाजे से घर के अंदर घुसे थे। दरवाजे की कुंडी अंदर से बंद थी। इसलिए डकैतों ने बाहर से हाथ डालकर कुंडी को खोला। पुलिस द्वारा पड़ोसी घर के सीसीटीवी कैमरे को खंगाला गया लेकिन वो कैमरा बंद पड़ा मिला। बताया जा रहा है कि अर्शा नैनीताल स्थित डीएसबी कैंपस में बीएससी फर्स्ट ईयर की छात्रा है। 3 दिन पहले ही वो घर आई थी। पुलिस की जांच के दौरान एक दूसरा सीसीटीवी फुटेज हाथ लगा है। बताया जा रहा है कि इस फुटेज में सफेद हेलमेट पहना हुआ एक शख्स दिख रहा है। हालांकि उसका चेहरा साफ नहीं दिख रहा लेकिन पुलिस स्कूटी को ट्रैक कर रही है। मौका-ए-वारदात पर टूटी चूड़ियां टूटी और डकैतों से संघर्ष के निशान भी मिले हैं। इस बीच खबर ये भी है पुलिस के हाथ एक वीडियो आया है। इस वीडियो में कुछ खास बातों का भी ज़िक्र किया गया है।

यह भी पढें - केदार आपदा में जिस माता-पिता को मरा दिखाकर मुआवजा हड़पा..वो अभी जिंदा हैं !
एक बड़े अखबार के मुताबिक इस वीडियो में अर्शा से मिलते-जुलते चेहरे वाली एक लड़की बाकी लड़कियों के साथ मिलकर एक अन्य लड़की को पीट रही है। उससे माफी मंगवाई जा रही है और उसका मोबाइल भी मांग रही है। बताया जा रहा है कि इस वीडियो में लड़कियां किसी सौदे को लेकर झगड़ रही हैं। पुलिस वीडियों में पिट रही लड़की को भी तलाश कर रही है। साथ ही सोशल मीडिया अकाउंट को भी खंगाला जा रहा है। अर्शा के पिता का नाम लक्ष्मी दत्त पांडे है और वो मूल रूप से बागेश्वर के कमेड़ीदेवी के रहने वाले हैं। वो डंपर भी चलवाते हैं लेकिन उनका मुख्य काम खेतीबाड़ी है। इकलौता बेटा आदित्य बैंगलुरू में एक निजी कंपनी में काम कर रहा है। लक्ष्मी दत्त डंपर चलाने का काम करते हैं और इस वजह से रेता बजरी ढोने वाले चालकों और अन्य लोगों की भी छानबीन की जा रही है। एसएसपी जन्मेजय खंडूरी का कहना है कि सात थानों की पुलिस को इस केस में लगाया गया है।


Uttarakhand News: poonam panday murder mistry haldwani

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें