loksabha elections 2019 results

पहाड़ के जिस युवा ने हजारों लोगों की जान बचाई, वो अस्पताल में है..उसके लिए दुआ करें !

पहाड़ के जिस युवा ने हजारों लोगों की जान बचाई, वो अस्पताल में है..उसके लिए दुआ करें !

Roshan raturi admitted in hospital - Roshan raturi, rr huminity, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,,उत्तराखंड,

उत्तराखंड के जिस अकेले शख्स ने अब तक अपने दम अब तक दुनियाभर के 579 लोगों को बचाया, वो शख्स अस्पताल में भर्ती है। ना जाने कितने लोगों के लिए देवदूत बन चुके रोशन रतूड़ी बिना खाए पीए और अपनी सेहत का ध्यान ना रखकर लोगों की सेवा में जुटे रहते हैं। शरीर में इतनी कमजोरी आ गई है कि बार बार अस्पताल में भर्ती होना पड़ा रहा है। कल रात ही रोशन रतूड़ी को बेहद दर्द महसूस हुआ और इस वजह से उन्हें अस्पताल ले जाना पड़ा। डॉक्टर्स ने सीटी स्कैन किया है और अब रिपोर्ट का इंतजार हो रहा है। हालात ऐसे हैं कि रोशन रतूड़ी को एक जगह से दूसरी जगह व्हील चेयर पर ले जाया जा रहा है। दर्द इतना ज्यादा था कि रोशन रतूड़ी को मेडिसिन इंजेक्शन देने पड़े हैं। राज्य समीक्षा ने रोशन रतूड़ी से बात की तो पता चला कि वो दुबई के एक अस्पताल में व्हील चेयर पर हैं।

यह भी पढें - पहाड़ की होनहार कलाकार सड़क हादसे की शिकार, रक्षाबंधन पर इस बहन के लिए दुआ करें
Roshan raturi admitted in hospital
डॉक्टर्स ने रोशन रतूड़ी को अभी ना चलने की सलाह दी है। रोशन रतूड़ी का कहना है कि उनसे लोगों की तकलीफ नहीं देखी जाती लेकिन यहां अपनी सेहत का ध्यान रखना भी जरूरी है। डॉक्टर्स का कहना है कि बहुत ज्यादा भागदौड़ की वजह से रोशन रतूड़ी का शरीर कमज़ोर पड़ रहा है और उन्हें आराम की सलाह दी है। रोशन रतूड़ी आज अपने कामों की वजह से पूरी दुनिया में जाने जाते हैं। वो किसी भी देश का हो, किसी भी धर्म का हो, किसी भी जाति का हो...रोशन रतूड़ी परवाह नहीं करते और तत्काल ही मदद में जुट जाते हैं। उस शख्स का पासपोर्ट तैयार करना, वीजा तैयार करना, आने जाने का खर्च देने से लेकर खाने की पीने और रहने की व्यवस्था करने में रोशन रतूड़ी का सारा वक्त लग जाता है। ऐसे में अपने लिए वक्त निकालने का तो सवाल ही पैदी नहीं होता। इसी वजह से आज रोशन अस्पताल में हैं।

यह भी पढें - सलाम..पहाड़ के रोशन रतूड़ी ने वो कर दिखाया, जो देश में कोई भी नहीं कर पाया!
Roshan raturi admitted in hospital
जैसे ही रोशन रतूड़ी के चाहने वालों को इस बारे में पता चला, तो दुआओं का दौर भी शुरू हो गया। हर कोई चाह रहा है कि जल्द से जल्द रोशन रतूड़ी वापस आए और लाखों उम्मीदों को जगाएं। दुनियाभर के लोगों का हौसला कायम रखने वाले इस शख्स का हौसला बढ़ाए रखने की जरूरत है। राज्य समीक्षा ने रोशन रतूड़ी के स्वास्थ्य के बारे में जानने की कोशिश की तो रोशन रतूड़ी कहते हैं कि वो अपना ध्यान नहीं रख पा रहे हैं। लगातार मैसेज और कॉल आते हैं, उनका जवाब देना पड़ता है, लोगों की मदद करनी पड़ती है। दुआ कीजिए कि जल्द ही उत्तराखंड का ये बेटा वापस अपने काम पर लौटे। जिस तरह से रोशन रतूड़ी मानवता और इंसानियत के लिए काम कर रहे हैं, उन कामों का जारी रहना बेहद जरूरी है।


Uttarakhand News: Roshan raturi admitted in hospital

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें