उत्तराखंड में बादल फटने और बज्रपात की चेतावनी, 12 अगस्त तक सावधान रहें!

उत्तराखंड में बादल फटने और बज्रपात की चेतावनी, 12 अगस्त तक सावधान रहें!

Uttarakhand weather alert for next two days  - Uttarakhand weather, uttarakhand rain , uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,,उत्तराखंड,

उत्तराखंड में अगले 12 अगस्त तक मौसम खतरनाक तेवर दिखाएगा। मौसम विभाग की इस चेतावनी का असर दिखने लगा है। उत्तराखंड के कई इलाके इस वक्त बारिश से बेहाल हैं। जगह जगह टूटी सड़कें और सैलाब लोगों के लिए आफत बन रहे हैं। इस बीच मौसम विभाग ने सभी जिलों को अलर्ट पर रहने के लिए कहा है। देहरादून में जिलाधिकारी एसए मुरुगेशन ने भी अधिकारियों को सतर्क रहने को कहा है। देहरादून में आज सुबह से ही झमाझम बारिश का सिलसिला चल रहा है। जिलाधिकारी ने मीडिया को जानकारी दी है कि मौसम विभाग ने 10 से 12 अगस्त तक उत्तराखंड के कई जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। कुछ इलाकों में बादल फटने का अलर्ट जारी किया गया है तो कुछ इलाकों में बज्रपात का भी अलर्ट जारी किया गया है। अब ये भी जानिए कि किन जिलों को अलर्ट रहने की जरूरत है।

यह भी पढें - उत्तराखंड में अगले 3 दिन होगी भारी बारिश, मौसम विभाग ने किया अलर्ट..‘सतर्क रहिए’!
बताया जा रहा है कि उत्तराखंड के चमोली, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर, टिहरी, पिथौरागढ़, देहरादून और नैनीताल में भारी से बारिश हो सकती है। चमोली जिले में अभी कुछ दिन पहले ही दो जगह बादल फटे थे। चमोली जिले के लोगों को एक बार फिर से सतर्क रहने की जरूरत है। पिथौरागढ़ में बादल फटने और बज्रपात जैसी घटनाएं हो सकती हैं। इसके अलावा रुद्रप्रयाग, नैनीताल और देहरादून जिले के लोगों को खास सतर्क रहने की जरूरत है। मौसम विभाग का कहना है कि अगले मुसीबत कम होने के आसार नजर नहीं आ रहे। 12 अगस्त तक कई इलाकों में जबरदस्त बारिश होगी। जगह जगह एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के जवानों की तैनाती की गई है। संवेदनशील जगहों पर तुरंत राहत पहुंचाने के निर्देश दिए गए हैं। सभी जिलाधिकारियों को अलर्ट जारी कर दिया गया है।

यह भी पढें - Video: उत्तरकाशी में भयंकर भूस्खलन, हाईवे पर फंसे डीएम और 700 यात्री..देखिए वीडियो
किसी भी परेशानी में तुरंत एक्शन लेने के निर्देश जारी किए गए हैं। ऋषिकेश-यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पिछले हफ्ते से ठप पड़ा है। ओजरी और डाबरकोट के बीच पहाड़ी से लगातार पत्थर गिर रहे हैं। यात्रियों को त्रिखला और कुपड़ा पैदल मार्ग से ले जाया जा रहा है। बदरीनाथ हाईवे का भी कमोबेश ऐसा ही हाल है। लामबगड़ के पास बार-बार भूस्खलन आ रहा है और रास्ता बंद हो रहा है। गंगोत्री हाईवे पर धरासू और नालूपानी के पास रास्ता बंद हो गया था। धराली में बरसाती नाला उफान पर है और सड़क पर मलबा आ गया। बड़ेती के पास भी गंगोत्री हाईवे पर मलबा आ गया। उधर कुमाऊं में पिथौरागढ़ के लोग मुसीबतों का सामना कर रहे हैं। कैलास मानसरोवर यात्रा के यात्रियों को कालापानी और तकलाकोट में रोका गया है। देहरादून और ऋषिकेश में भी स्थिति बेहाल है। इसलिए सतर्क रहिएगा।


Uttarakhand News: Uttarakhand weather alert for next two days

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें