केदारनाथ में पहली गुफा बनकर तैयार, इसकी खूबियां भी कमाल की हैं

केदारनाथ में पहली गुफा बनकर तैयार, इसकी खूबियां भी कमाल की हैं

Cave in kedarnath  - kedarnath , uttarakhand temple, uttarakhand, uttar,,उत्तराखंड,, नरेंद्र मोदी

आपको याद होगा कि कुछ वक्त पहले देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केदारनाथ में गुफा तैयार करने की बात कही थी। योग-ध्यान और साधना करने वालों के लिए इस गुफा को तैयार करने की बात कही गई थी। इसी साल फरवरी के महीने में इस गुफा के लिए केदारनाथ में जगह का चयन किया था और जुलाई में ये गुफा बनकर तैयार है। अब आप इस गुफा की खूबियां भी जानिए। ये गुफा पूरी तरह से पहाड़ी शैली में तैयार की गई है। इस गुफा के छत पर आपको पठाल दिखेगी। साढ़े आठ लाख रुपये की लागत से तैयार इस गुफा में बिजली, पानी, शौचालय जैसी सभी सुविधाएं आपको मिलेंगी। खास बात ये भी है कि अगर किसी को इस गुफा में योग-साधना करनी है, तो उसके लिए पहले से ही बुकिंग करनी होगी। इसकी कुछ और भी खास बातें जानिए।

यह भी पढें - Video: केदारनाथ में मजदूरी करने वाला लड़का सेना में भर्ती हुआ, दिल छू लेने वाली बात बताई
ये गुफा 5 मीटर लंबी और तीन मीटर चौड़ी है। साधना के लिए यहां पर सभी तरह की जरूरी सुविधाएं उपलब्ध हैं। गुफा का आंगन भी पठाल से तैयार किया गया है। इस गुफा का निर्माण नेहरू पर्वतारोहण संस्थान द्वारा किया गया है।
Cave in kedarnath - uttarakhand news
इस गुफा के संचालन की जिम्मेदारी गढ़वाल मंडल विकास निगम को दी गई है। ये गुफा केदारनाथ मंदिर से करीब 400 मीटर पीछे है। मंदाकिनी नदी को पार कर चोराबाड़ी ताल के ठीक नीचे वाले क्षेत्र में इस गुफा को तैयार किया गया है।

यह भी पढें - मां धारी देवी...उत्तराखंड के चार धामों की रक्षक...हर दिन तीन रूपों में दिखती हैं मां !
साधु, संत या कोई यात्री अगर यहां ठहरता है तो उसके आराम के लिए बिस्तर भी लगाया गया है। संचार सुविधा के लिए यहां टेलीफोन भी रखा गया है। खास बात ये भी है कि इस गुफा से आपको केदारनाथ धाम के साक्षात दर्शन भी होंगे।
Cave in kedarnath - uttarakhand news
डीएम मंगेश घिल्डियाल का कहना है कि गुफा के दर्शन या यहां ठहरने के लिए यात्रियों का अलग से रजिस्ट्रेशन होगा।

यह भी पढें - Video: केदारनाथ क्षेत्र की बेटी ने हुनर से रचा इतिहास, अब मिलेगा तीलू-रौतेली पुरस्कार
इस गुफा को तैयार करने में साढ़े आठ लाख रुपये की लागत आई। डीएम मंगेश घिल्डियाल ने बताया कि अगर कोई ऑनलाइन बुकिंग करना चाहता है, तो ये व्यवस्था भी मौजूद है। दरअसल केदारनाथ में ऐसी 5 गुफाओं का निर्माण होना है।
Cave in kedarnath - uttarakhand news
कोई भी व्यक्ति इस गुफा को 3 दिनों के लिए ही बुक करा सकता है। गुफा की बुकिंग में कितना खर्च आएगा, ये अभी तय नहीं हुआ है।


Uttarakhand News: Cave in kedarnath

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें