उत्तराखंड के लिए अगले 2 दिन बेहद मुश्किल, 6 जिलों में भयंकर बारिश की चेतावनी

उत्तराखंड के लिए अगले 2 दिन बेहद मुश्किल, 6 जिलों में भयंकर बारिश की चेतावनी

Heavy rain alert for 6 districts in Uttarakhand - Heavy rain, Rain alert, Weather report, uttarakhand, uttarakhand news, latest news from uttarakhand,उत्तराखंड,

मौसम विभाग ने उत्तराखंड में 11 जुलाई तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। उत्तराखंड मौसम विज्ञान केंद्र ने कहा है कि गढ़वाल और कुमाऊं के कुल 6 जनपदों को भारी बारिश की संभावनों के मध्यनजर चिह्नित किया गया है। एक तरफ जहां मानसून शुरू होने के बाद हुई अच्छी बारिश के बाद किसानों और काश्तकारों ने धान की रोपाई शुरू कर दी है, वहीं भारी बारिश ने उत्तराखंड में कई जगह सड़कों की हालत बदतर कर दी है। बारिश से किसान खुश हैं और पूरे उत्तराखंड में धान की रोपाई शुरू हो गई वहीँ कोहरे के चलते सभी जगह सड़कों पर वाहन चालकों को हेड लाइट जलानी पड़ रही है। गढ़वाल के चमोली, पौड़ी और रुद्रप्रयाग जिलों और कुमाऊं में पिथौरागढ़, नैनीताल और चंपावत में 10 व 11 जुलाई को भारी बारिश की आशंका है। जिसे देखते हुए मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। उत्तराखंड के मौसम विभाग ने सोमवार से ही कुमाऊं के पिथौरागढ़, नैनीताल एवं चंपावत में भारी बारिश की चेतावनी भी दी है।

यह भी पढें - उत्तराखंड के पूर्व CM एनडी तिवारी की किडनी फेल, अगले 48 घंटे जिंदगी के लिए बेहद अहम
उत्तराखंड मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार 11 जुलाई तक कुमाऊं एवं गढ़वाल के छह जिलों में भारी से भारी बारिश के आसार हैं। गढ़वाल मंडल के तीन जिले चमोली, पौड़ी एवं रुद्रप्रयाग को अलर्ट रहने की हिदायत दी है। उत्तराखंड आपातकालीन परिचालन केंद्र से सभी जिलों के जिलाधिकारी को भारी भारिश की संभावनाओं के चलते अलर्ट रहने को कहा गया है। पहाड़ों में कल से चल रही लगातार बारिश के चलते चमोली जिले में भूस्खलन के चलते लामबगड़ के निकट बदरीनाथ हाइवे सुबह एक घंटा बंद रहा जिसके बाद इसे ठीक किया गया। पौड़ी गढ़वाल, रुद्रप्रयाग में मौसम अभी भी बारिश का है और हल्की बूंदाबांदी का दौर जारी है। देहरादून में अभी हलकी धूप निकल आई है पर बादल लगे होने के कारण भारी बारिश की संभावनायें अभी भी बरकरार हैं। टिहरी जिले में घना कोहरा लगा है, जिससे वाहनों के आवागमन में विशेष रूप से सतर्कता बरतने को कहा गया है।

यह भी पढें - मंगेश घिल्डियाल का ये रूप देखकर दंग हुई जनता, तुरंत दिया अपने हीरो का साथ
इसी बीच खबर है कि ऋषिकेश से टिहरी जाने वाला मार्ग भूस्खलन के कारण फकोट और हिंडोलाखाल के पास बंद हो गया है और इन जगहों पर लगातार मलबा गिर रहा है। जेसीबी काम कर रही हैं लेकिन लगातार बारिश के कारण मलबा लगातार गिर रहा है। उधर कुमाऊं के रानीखेत और कोसी घाटी में पहाड़ बादलों से घिरा हुआ है। खबर है कि पिथौरागढ़ में लगातार बारिश के चलते कर्णप्रयाग और मुनस्यारी मार्ग भूस्खलन की चपेट में आया है और दोनों मार्ग अभी बाधित हैं। डीडीहाट और धारचूला से हल्द्वानी जाने वाले वाहन भूस्खलन के कारण जगह-जगह फंसे हुये है। बागेश्वर जिले के कपकोट में 162 मिमी से अधिक वर्षा दर्ज की गयी है जिससे सरयू नदी उफान पर है। बहरहाल मौसम विभाग ने उत्तराखंड में 11 जुलाई तक भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है और गढ़वाल और कुमाऊं के चमोली, पौड़ी, रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़, नैनीताल और चंपावत जिलों में भारी बारिश की संभावनों के मध्यनजर अलर्ट जारी किया गया है।


Uttarakhand News: Heavy rain alert for 6 districts in Uttarakhand

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें