उत्तराखंड में भारी बर्फबारी से दो यात्रियों की मौत, केदारनाथ-बदरीनाथ में हाई अलर्ट

उत्तराखंड में भारी बर्फबारी से दो यात्रियों की मौत, केदारनाथ-बदरीनाथ में हाई अलर्ट

Heavy rainfall and snowfall in kedarnath badrinath  - उत्तराखंड न्यूज, केदारनाथ, बदरीनाथ ,उत्तराखंड,

उत्तराखंड में मौसम लगातार करवट ले रहा है। मैदानों में लगातार होती बारिश और पहाड़ों में हो रही जबरदस्त बर्फबारी से आफत बढ़ रही है। इसका सीधा असर चार धाम यात्रा पर पड़ रहा है। केदारनाथ में 3 इंच से ज्यादा बर्फबारी हुई है। इसके अलावा बदरीनाथ में 3 दिन से बर्फबारी जारी है । बर्फबारी की वजह से केदारनाथ में उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत भी फंस गए थे। मौसम के साफ होने के बाद ही हेलीकॉप्टर की मदद से हरीश रावत गुप्तकाशी पहुंचे। इस बीच केदारनाथ में लगातार हो रही बर्फबारी की वजह से 4272 यात्रियों को वापस भेज दिया गया है। पुलिस की टीमें 5-5 लोगों की टीम बनाकर लोगों की मदद कर रही हैं। उत्तराखंड में मौसम विभाग द्वारा पहले ही चेतावनी जारी कर दी गई थी। इस वजह से तीर्थयात्रियों को सुरक्षित पड़ावों पर रोक लिया गया है। बर्फबारी की वजह से अब तक दो श्रद्धालुओं की मौत की खबर भी आ रही है।

यह भी पढें - उत्तराखंड में भारी बर्फबारी से लबालब हुई चोटियां, मैदानी इलाकों में तेज आंधी… देखिए तस्वीरें
बताया जा रहा है कि केदारनाथ जाने वाले यात्रियो को गौरीकुंड और सोनप्रयाग में रोक लिया गया है। बार बार पुलिस द्वारा मौसम के बारे में अनाउंस किया जा रहा है। बदरीनाथ में भी कमोबेश ये ही हाल है। लगातार तीन दिनों से हो रही बर्फबारी की वजह से कड़ाके की ठंड पर रही है। पुलिस और SDRF की टीमें यात्रियों की मदद करने में जुटी हैं। बुजुर्ग और असहायों को शेल्टर या फिर धर्मशालाओं में रोका जा रहा है। बदरीनाथ जाने वाले यात्रियों को पांडुकेश्वर, बद्रीनाथ और जोशीमठ जैसी जगहों में रोक लिया गया है। उधर बारिश की वजह से उत्तरकाशी जिले के ओजरी डाबरकोट में यमुनोत्री नेशनल हाईवे बंद हो गया। हालांकि इसके बाद यातायात शुरू कर दिया गया। टिहरी में बारिश लगातार जारी है। गढ़वाल मंडल समेत कुमाऊं में भी कई जगहों पर भारी बारिश हो रही है। ऊंची चोटियों पर हो रही बर्फबारी की वजह से सर्द हवाएं चल रही हैं।

यह भी पढें - केदारनाथ में सुपरहिट हुआ स्वरोजगार का फार्मूला, सिर्फ चार दिन में बना बड़ा रिकॉर्ड
हेमकुंड साहिब में भी जबरदस्त बर्फबारी हो रही है, इस वजह से यात्रा की तैयारियों के सारे काम ठप पड़ गए हैं। केदारनाथ में कपाट खुलने के दस दिन के भीतर ही यात्रा रोकनी पड़ी है। ऐसा बहुत कम देखने को मिलता है। खास तौर पर केदारनाथ का मौसम यात्रियों के लिए काफी चुनौतीपूर्ण होता है। मैदानों में पड़ रही भीषण गर्मी के सीधे बाद केदारनाथ आना किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं। ऐसे में बर्फबारी में तो यात्रियों की हालत ही खराब हो जाती है। आपको बता दें कि कुछ वक्त पहले से ही मौसमन विभाग द्वारा उत्तराखंड के लिए चेतावनी जारी की जा रही है। एक बार फिर से मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले कुछ घंटे उत्तराखंड के लिहाज से काफी खतरनाक साबित हो सकते हैं। ऐसे में हर किसी को सावधानी बरतने की सलाह दी जा रही है। कई यात्रियों को ऋषिकेश में ही रोका गया है।


Uttarakhand News: Heavy rainfall and snowfall in kedarnath badrinath

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें