उत्तराखंड के सीएम ने दी महिला सुरक्षा की मिसाल, एक ट्वीट पर एक्शन, देशभर में तारीफ

उत्तराखंड के सीएम ने दी महिला सुरक्षा की मिसाल, एक ट्वीट पर एक्शन, देशभर में तारीफ

Cm trivendra action on a complaint on twitter - उत्तराखंड न्यूज, त्रिवेंद्र सिंह रावत,उत्तराखंड,

उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के एक शानदार एक्शन की देशभर में तारीफ हो रही है। चर्चाएं हो रही हैं कि अगर उत्तराखंड के सीएम ऐसा काम कर सकते हैं तो देशभर के अलग अलग राज्यों के सीएम ऐसा काम क्यों नहीं करते। सोशल मीडिया आज के दौर में हर किसी की जिंदगी का हिस्सा बन रहा है। इसलिए सीएम त्रिवेंद्र खुद कहते हैं कि सोशल मीडिया पर मिलने वाली शिकायतों पर गौर किया जाए, इससे कई लोगों की जिंदगी बच सकती है। हाल ही में देहरादून में जो हुआ, वो इसका प्रमाण भी है। दरअसल एक शिक्षिका बस में सवार थी। शिक्षिका को बल्लूपुर चौक पर उतरना था। लेकिन बदनीयत बस चालक ने उन्हें उतारने के बजाय बस को तेज गति से भगा दिया। देहरादून की ये शिक्षिका प्रेमनगर से बल्लूपुर जा रही थी। इस दौरान जब उन्होंने बल्लूपुर पर उतरना चाहा तो बस चालक ने तेज रफ्तार से गाड़ी आगे बढ़ा दी।

यह भी पढें - Video: देवभूमि के फौजी बृजेश बिष्ट को सलाम, आजादी के 7 दशकों में जो नहीं हुआ, वो कर दिया
यह भी पढें - ऋषिकेश से कर्णप्रयाग सिर्फ डेढ़ घंटे में, रेलवे लाइन का निर्माण शुरू, जानिए खास बातें
शिक्षिका के दिल में खौफ था और वो हैरान भी थी कि आखिर बस चालक ऐसा क्यों कर रहा है। बस चालक ने बस को नीचे ले जाने के बजाए फ्लाई ओवर के ऊपर से तेज रफ्तार में गाड़ी चला दी। शिक्षिका चिल्लाती रहीं, लेकिन ड्राइवर पर कोई असर नहीं हुआ। शिक्षिका ने पुलिस का डर दिखाया तो तब जाकर बस को रोका गया। पीड़िता ने चालक और परिचालक की मंशा पर सवाल उठाया और कार्रवाई की मांग की। इसके तुरंत बाद शिक्षिका ने सीएम त्रिवेंद्र को इस बारे में ट्वीट कर दिया। सीएम ने जैसे ही ये ट्वीट देखा तो तुरंत ऐक्शन लिया। कैंट पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया था। पुलिस ने इस रास्ते पर चलने वाली करीब 65 बसों को लेकर जांच पड़ताल की। 11 बसों को चिन्हित कर कैंट थाने लाया गया। इसके साथ ही उस सिटी बस को ढूंढ निकाल लिया गया।

यह भी पढें - उत्तराखंड के 17 सालों में पहली बार, इस विभाग में अलग अलग पदों के लिए भर्तियां शुरू
यह भी पढें - सीएम त्रिवेंद्र का राहुल गांधी पर बड़ा प्रहार, इसे कांग्रेसी सह नहीं पा रहे हैं
अब गाड़ी के परिचालक ने सफाई दी है कि टाइमिंग की जल्दबाजी में ये गलती हुई है। पीड़िता ने कंडक्टर को पहचानने में कोई देरी नहीं की। पुलिस ने बस को सीज कर आरोपी कंडक्टर महेश थापा से पूछताछ की। बताया जा रहा है कि चालक किसी समारोह में शामिल होने के लिए शहर से बाहर है। इंस्पेक्टर कैंट शंकर सिंह बिष्ट का कहना है कि कंडक्टर को नोटिस तामिल करा दिया गया है। चालक के शादी समारोह से लौटने के बाद उससे भी पूछताछ कर कार्रवाई की जाएगी। इस बात से इतना तो साफ है कि सोशल मीडिया पर सीएम त्रिवेंद्र काफी एक्टिव हैं। इतना जरूर है कि वो सोशल मीडिया पर आने वाली शिकायतों पर तुरंत एक्शन ले रहे हैं। कुल मिलाकर कहें तो सीएम त्रिवेंद्र ने अपने एक्शन से एक बार फिर से देश का ध्यान अपनी ओर खींचा है।


Uttarakhand News: Cm trivendra action on a complaint on twitter

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें