देवभूमि को मिला देश का पहला ‘पावर पैक’, केदार के दर के सीएम त्रिवेंद्र का ऐलान, !

देवभूमि को मिला देश का पहला ‘पावर पैक’, केदार के दर के सीएम त्रिवेंद्र का ऐलान, !

Uttarakhand will get electricity from solar briefcase - उत्तराखंड न्यूज, त्रिवेंद्र सिंह रावत, उत्तराखंड स,उत्तराखंड,

उत्तराखंड लिए सीएम त्रिवेंद्र एक बार फिर से बड़ा तोहफा लेकर आए हैं। अब तक कई बार सरकार तक ये शिकायत पहुंच चुकी है कि प्रदेश के कई गांव अभी भी अंधेरे में डूबे रहते हैं। बार बार इसके लिए कई कोशिशें की गई, लेकिन कभी अधिकारियों की लापरवाही और कभी सरकारों की बेपरवाही की वजह से उत्तराखंड के गांव आज भी बिजली के बिना हैं। लेकिन अब लग रहा है कि गांवों से अंधेरा दूर करने की नई कोशिश हो रही है। इसके लिए देश का पहला पावर पैक केदारनाथ-बद्रीनाथ मंदिर समिति को दिया गया है। दरअसल सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत केदारनाथ के दर पर पहुंचे थे। वहां पहुंचकर उन्होंने भगवान केदार के दर्शन किए और वहीं से एक बड़ा ऐलान कर डाला। सीएम ने हंस फाउंडेशन के सहयोग से सोलर ब्रीफकेस का उद्घाटन किया।

इस दौरान तीर्थ पुरोहितों ने भी सीएम त्रिवेंद्र के सामने अपनी परशानियां रखी। पहला सोलर ब्रीफकेस का केदारनाथ में उद्घाटन किया गया है, जो कि एक बेहतरीन कदम कहा जा सकता है। सीएम ने कहा कि प्रदेश के दूरस्थ और दुर्गम क्षेत्रों में अंधेरे में डूबे गांव अब बिजली की रोशनी से जगमगाएंगे। इसके साथ ही सीएम ने एक बड़ी बात कही। उनका कहना है कि 2019 तक इस पावर पैक के माध्यम से हर घर तक बिजली पंहुचाने के लक्ष्य को हासिल करना है। इसके साथ ही सीएम का कहना है कि शुरू में ऐसे गांवों को ये पावर पैक दिए जाएंगे, जहां बिजली नहीं है। इसके बाद जरूरत के हिसाब से उत्तराखंड के कई गांवों में इसे बांटा जाएगा। सीएम त्रिवेंद्र ने बताया कि दो गांव का हाल ही में विद्युतीकरण किया गया, लेकिन उत्तराखंड में 47 गांव अभी भी बिजली से अछूते हैं।

इसकी मुख्य वजह वन अधिनियम और नेशनल पार्क के क्षेत्रों में इन गांव का आना है। इसके साथ ही सरकार न नई केदारपुरी बसाने की भी योजना तैयार की है। इसके तहत उन्हीं जगहों पर नये भवन बनाए जाएंगे, जहां स्थानीय लोगों के पुराने भवन थे। स्थानीय स्तर पर उपलब्ध साम्रगी से नये, आकर्षक और पहाली शैली मं घर बनाए जाएंगे। सीम त्रिवेंद्र ने कहा है कि नई कदारपुरी हर तरह से स्मार्ट होगी। इतना जरूर है कि उत्तराखंड के लिए ये एक बड़ा तोहफा कहा जा सकता है। जिन गांवों में बिजली नहीं है, वो अपना पावर पैक की वजह से अपने घरों को रोशनी से जगमगाएंगे। केदारनाथ से तो इसकी शरुआत हो गई है और सीएम ने 2019 का लक्ष्य भी तैयार किया है। देखना है कि कितनी जल्दी सीएम का य ड्रीम प्रोजक्ट पूरा होता है।


Uttarakhand News: Uttarakhand will get electricity from solar briefcase

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें