बाबा केदारनाथ को चढ़ाया जा रहा है नकली घी, जांच में हुआ बड़ा खुलासा !

बाबा केदारनाथ को चढ़ाया जा रहा है नकली घी, जांच में हुआ बड़ा खुलासा !

Abhishek of baba kedars ghee is mixed says report - उत्तराखंड न्यूज, केदारनाथ, uttarakhand news, kedar,उत्तराखंड,

स्पैक्स संस्था के बारे में आप जानते होंगे। ये वो संस्था है, जो खाद्य पदार्थों में मिलावटी सामान की जांच करती है। इस संस्था ने एक बड़ा खुलासा किया है। कहा जा रहा है कि केदारनाथ में महादेव के अभिषेक में इस्तेमाल होने वाले देसी घी में मिलावट है। दरअसल स्पैक्स की तरफ से चारधाम यात्रा मार्गों पर खाद्य पदार्थों की जांच की गई। इस जांच में बहुत कुछ बातें सामने निकलकर आई हैं। संस्था ने दावा किया है कि जो घी बाबा केदार के अभिषेक के लिए चढ़ाया जा रहा है, उसमें 88 फीसदी तक मिलावट की गई है। यानी संस्था का साफ साफ कहना है कि ये वो नकली घी है, जो बाबा केदार के अभिषेक के लिए मंगाया जाता है। प्रेस क्लब में पत्रकारों से वार्ता में स्पैक्स संस्था के सचिव बृजमोहन शर्मा ने ये सारी बातें बताई हैं। उन्होंने बताया कि 25 मई से 20 जुलाई तक चले अभियान में संस्था ने चारधाम यात्रा मार्ग पर खाद्य पदार्थों के सैंपल लिए हैं।

47 स्थानों से विभिन्न खाद्य पदार्थों के 1143 सैंपल लिए गए हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि 1143 सैपंल में से 983 नमूनों में मिलावट पाई गई। गंगोरी, कोडियाला, गंगनानी और भटवाड़ी में तो सरसों के तेल और रोली में 100 फीसदी तक मिलावट पाई गई है । अब आपको बताते हैं कि कहां कहां कितने नमूने लिए गए और कितने नमूनों में मिलावट पाई गई है। देहरादून से बदरीनाथ और केदारनाथ मार्ग पर 648 सैंपल लिए गए इनमें से 561 सैंपल में मिलावट पाई गई है। इसके अलावा गंगोत्री मार्ग पर 282 नमूने लिए गए और इनमें से 241 नमूनों में मिलावट पाई गई है।यमुनोत्री मार्ग पर 213 सैंपल लिए गए हैं और इनमें 181 नमूनों में मिलावट पाई गई। अब आपको बताते हैं कि कहां कहां मिलावट पाई गई है। देहरादून से बदरीनाथ-केदारनाथ मार्ग की बात करते हैं। आप इस बारे में जानकर दंग रह जाएंगे।

स्पैक्स का कहना है कि कोडियाला में, बदरीनाथ में, केदारनाथ में , गोपेश्वर में , रुद्रप्रयाग में, पीपलकोटी में, ऋषिकेश में, उखीमठ में , तिलवाड़ा में, माणा में, जोशीमठ में, व्यासी में , श्रीकोट में, गुप्तकाशी में, नंदप्रयाग में, अगस्त्यमुनि में, कर्णप्रयाग में, डोईवाला में , गोविंदघाट में, चोपता में और चमोली में खाद्य पदार्थों में मिलावट पाई गई है। इसके अलावा गंगोत्री मार्ग में हर्षिल, नरेंद्रनगर, टिहरी, गंगोत्री, उत्तरकाशी, धरासू, आगराखाल, चंबा, डूंडा में खाद्य पदार्थों में मिलावट पाई गई है। अब आपको यमुनोत्री मार्ग के बारे में भी बता देते हैं। यमनोत्री मार्ग पर बड़कोट, नौगांव, कैंपटी, बर्नीगाड, यमनोत्री, मसूरी, हनुमान चट्टी और नैनबाग में खाद्य पदार्थों में मिलावट पाई गई है। कुल मिलाकर कहें को इस वक्त जहां केदारनाथ-बद्रीनाथ यात्रा सीजन जोरों पर है, वहीं जिस घी से इन धामों में अभिषेक होता है, वो ही नकली है।


Uttarakhand News: Abhishek of baba kedars ghee is mixed says report

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें