Video: नरेंद्र सिंह नेगी जी के प्रशंसकों के लिए खुशखबरी, 12 अगस्त को बनेगा इतिहास...

Video: नरेंद्र सिंह नेगी जी के प्रशंसकों के लिए खुशखबरी, 12 अगस्त को बनेगा इतिहास...

Narendra singh negi is fit now - उत्तराखंड न्यूज, नरेंद्र सिंह नेगीउत्तराखंड,

उत्तराखंड के लोगों की दुआओं का असर काम कर रहा है। गढ़रत्न नरेंद्र सिंह नेगी जी की तबीयत में सुधार हो गया है और वो घर लौट आए हैं। इसके साथ ही वो लोग खुश हो गए हैं, जो नेगी जी के लिए दुआएं मांग रहे थे। आपको बता दें कि 28 मई की शाम को नेगी जी की तबीयत बिगड़ गई थी। शुक्रवार को अस्पताल से सोशल मीडिया के जरिए उनकी एक तस्वीर जारी की गई। नेगी जी के साथ इस तस्वीर में उनकी पत्नी उषा नेगी जी भी हैं। नेगी जी को आइसीयू से पहले सीसीयू में शिफ्ट किया गया था। इसके बाद वो प्राइवेट वार्ड में शिफ्ट हो गए थे। उनके खानपान में काफी सावधानियां बरती जा रही हैं। नेगी जी को फिलहाल खिचड़ी, दलिया दिया जा रहा है। हालांकि अभी नेगी जी काफी कम बोल रहे हैं और उन्हें फिलहाल प्रशंसकों से भी दूर रखा गया है। नेगी दा के बेटे कविलास का कहना है कि 12 अगस्त को दून में एक बड़े आयोजन की तैयारी की जा रही है। उम्मीद है कि 12 अगस्त का प्रोग्राम नया इतिहास रच सकता है।

इस प्रोग्राम का नाम 'गीत गंगा नेगीदा की, गौलि-कंठ भुलौं कु' नाम दिया गया है। जब नेगी जी की तबीयत बिगड़ी तो हर कोई उनकी स्थिति जानने के लिए अस्पताल की तरफ दौड़ पड़ा। नेगी दा के चाहने वालों की दुनिया में कोई कमी नहीं है । हर किसी के हाथ नेगी जी की सलामती के लिए उठे। दुआओं में नेगी जी की सलामती मांगी गई। उनकी बीमारी की खबर जंगल की आग की तरह फैल गई। लोग उनके जल्दी सेहतमंद होने और लंबी उम्र की दुआ करने लगे। वक्त बीतता गया और अस्पताल में हालचाल जानने वालों की भीड़ बढ़ती गई। हर कोई ये जानने को बैचेन था कि ‘अब नेगी जी का स्वास्थ्य कैसा है’। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत भी उनके स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी ले रहे थे। लोग फोन और अन्य जरियों से नेगी जी के स्वास्थ्य के संबंध में जानकारियां जुटाते रहे। फेसबुक और व्हाट्स एप समेत अन्य सोशल साइटों पर भी उनकी सलामती के लिए दुआएं की जाने लगी।

उत्तराखंड ही नहीं बल्कि देश के भी संगीत और कला जगत के लोगों ने नेगी जी हाल समाचार पूछा। उधर उत्तराखंड में हर कोई नेगी जी की सलामती के लिए भगवान से प्रार्थना कर रहा है। उत्तराखंड को नेगी जी ना जाने कितनी यादें दे चुके हैं। उनका हर गीत दिल को छू लेने वाला होता है। नेगी जी सिर्फ एक मनोरंजनकार ही नहीं बल्कि एक कलाकार, संगीतकार और कवि हैं, जो अपने परिवेश को लेकर काफी भावुक और संवेदनशील हैं। नेगी जी का जन्म 12 अगस्त 1949 को पौड़ी में हुआ। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत पौड़ी से की थी और अब तक वे दुनिया भर के कई बडे बडे देशों मे जाकर गीत गा चुके हैं। उत्तराखण्ड के इस मशहूर गायक के गानों मे मात्रा के बजाय गुणवत्ता होती है। इस वजह से लोग उनके गानों को बहुत पसंद करते हैं। उनके प्रभावशाली गीतों के लिए उन्हें कई बार पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। नेगी जी केवल वास्तविकता में विश्वास रखते हैं। इसीलिए आप उनका वो गीत भी सुनिए, जिसे आप भी लोग सुनकर पहाड़ की वादियों में खो जाते हैं।

YouTube चैनल सब्सक्राइब करें -

Uttarakhand News: Narendra singh negi is fit now

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें