देवभूमि में मौसम ने फिर दिखाया रौद्र रूप, इन जिलों में मचा कोहराम

देवभूमि में मौसम ने फिर दिखाया रौद्र रूप, इन जिलों में मचा कोहराम

Rain alert in uttarakhand agine - उत्तराखंड न्यूज, आपदाउत्तराखंड,

जैसा कि हमने पहले भी आपको बताया था कि उत्तराखंड में मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। इसके साथ ही देखा भी जा रहा है कि कई जिलों में लोग काफी परेशान हो गए हैं। आलम ये है कि लोग ना तो बाहर जा पा रहे हैं और ऊपर से घर टूटने का डर लगातार सता रहा है। चमोली जिले के गैरसैंण में बादल फटने से एक मकान पूरी तरह से ध्वस्त हो गया। इसके साथ ही अलग अलग जगहपर मलबा आने से दिल्ली-यमुनोत्री नेशनल हाईवे बंद हो गया है। हालांकि इस बीच गनीमत ये है कि केदारनाथ, बदरीनाथ, गंगोत्री और हेमकुंड यात्रा सुचारु है। इसके साथ ही मौसम विभाग ने एक बार फिर से अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग का कहना है कि अगले 24 घंटों में भी अधिकांश स्थानों पर बारिश हो सकती है। कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है। इसे देखते हुए उत्तराखंड के कई जिलों में एक बार फिर से अलर्ट जारी किया गया है।

खासकर चारधाम यात्रा मार्गों पर खास सावधानी बरतने की सलाह दी गई है। शुक्रवार को राज्य में मानसून के दस्तक देने की संभावना है। बारिश का असर चारधाम यात्रा पर भी असर पड़ा है। रास्तों के बार-बार बंद होने और खुलने से यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। देहरादून के जनजातीय जौनसार बावर क्षेत्र में 100 से ज्यादा गांवों का सड़क से संपर्क कट गया है। उधर चमोली में आधी रात के बाद नगर पंचायत गैरसैण के सैंजी वार्ड में बादल फटने मकान और दो गोशाला ध्वस्त हो गई। परिवार के सदस्यों ने घर से भागकर अपनी जान बचाई। बारिश से खेतों में मलबा पट गया। इसके फसल को काफी नुकसान पहुंचा है। तहसील के अधिकारियों ने सुबह जाकर नुकसान का जायजा लिया। उधर उत्तरकाशी में बारिश के दौरान एक पेड़ गिर गया। इस वजह से जिलाधिकारी आवास की दीवार ढह गई।

बारिश से यमुनोत्री हाईवे असनौल गाड और हनुमान चट्टी के पास बंद हो गया। इसके साथ ही यमुना घाटी के सुमनंक्यारी-खरसोंनक्यारी के बीच खनंयूड तोक पर मलबा आने से यमुनोत्री हाईवे करीब आठ घंटे बंद रहा। इसके साथ ही देहरादून, हरिद्वार, रुड़की समेत बाकी इलाकों में मूसलाधार बारिश होने से जलभराव ने मुसीबतें बढ़ा दी। उधर कुमाऊं मंडल में पिथौरागढ़, चंपावत और बागेश्वर जिलों में थल-मुनस्यारी, पूर्णागिरि मुख्य मार्गों के साथ ही 6 मार्ग बंद हैं। इसके अलावा पौड़ी में रात को हुई बारिश के चलते शहर के कलक्ट्रेट से कांडई गांव को जाने वाले रास्ते पर मलवा गिर गया। इससे आवाजाही बंद हो गई है। रुड़की, कोटद्वार, हरिद्वार,देहरादून जैसी जगहों पर सुबह से रुक-रुक कर बारिश होती रही। कुमाऊं मंडल में काशीपुर, नैनीताल,बाजपुर, रानीखेत, हल्द्वानी, अल्मोड़ा जैसे स्थानों पर सुबह से ही रिमझिम बारिश का दौर चल रहा है।


Uttarakhand News: Rain alert in uttarakhand agine

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें