लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी अब कैसे हैं ? जानिए देहरादून से पल पल की अपडेट

लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी अब कैसे हैं ? जानिए देहरादून से पल पल की अपडेट

Medical report of narendra singh negi  - उत्तराखंड न्यूज, नरेंद्र सिंह नेगी उत्तराखंड,

हमने आपको बताया था कि उत्तराखंड के लोकगायक नरेंद्र सिंह को दिल का दौरा पड़ा था। इसके बाद उन्हें सीएमआई अस्पताल में एडमिट कराया गया था। सीएमआई के डाक्टरों ने नेगी जी की स्थिति गंभीर बताई। हालांकि नेगी जी के पर‍िजन उनके दिल के दौरे की बात से इंकार कर रहे हैं। परिजनों के मुताबिक नेगी जी को देर रात उन्हें सीएमआई से मैक्स अस्पताल रेफर कर दिया गया । अस्पताल के डाक्टरों के मुताबिक नेगी जी को वेंटिलेटर पर रखा गया है। इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने इस बात की जानकारी मिलने पर अस्पताल में पहुंचकर नेगी जी का हाल जाना। अस्पताल के चेयरमैन के मुताबिक शाम साढ़े पांच बजे उन्हें अस्पताल लाया गया था। सूत्रों का कहना है कि मैक्स अस्पताल में नेगी जी को लाइफ सपोर्ट स‌िस्टम पर रखा गया है। इससे उनकी हालत अभी स्‍‌थ‌िर बताई जा रही है। उत्तराखंड रत्न नरेंद्र सिंह नेगी को दिल का दौरा पड़ने की खबर जिसे भी मिली, वो हैरान रह गया।

हर कोई उनकी स्थिति जानने के लिए अस्पताल की तरफ दौड़ पड़ा। नेगी दा के चाहने वालों की दुनिया में कोई कमी नहीं है । हर किसी के हाथ नेगी जी की सलामती के लिए उठे। दुआओं में नेगी जी की सलामती मांगी गई। उनकी बीमारी की खबर जंगल की आग की तरह फैल गई। लोग उनके जल्दी सेहतमंद होने और लंबी उम्र की दुआ करने लगे। वक्त बीतता गया और अस्पताल में हालचाल जानने वालों की भीड़ बढ़ती गई। हर कोई ये जानने को बैचेन था कि ‘अब नेगी जी का स्वास्थ्य कैसा है’। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत भी उनके स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी ले रहे हैं। लोग फोन और अन्य जरियों से नेगी जी के स्वास्थ्य के संबंध में जानकारियां जुटाते रहे। फेसबुक और व्हाट्स एप समेत अन्य सोशल साइटों पर भी उनकी सलामती के लिए दुआएं की जाने लगी। उत्तराखंड ही नहीं बल्कि देश के भी संगीत और कला जगत के लोगों ने नेगी जी हाल समाचार पूछा।

उधर उत्तराखंड में हर कोई नेगी जी की सलामती के लिए भगवान से प्रार्थना कर रहा है। उत्तराखंड को नेगी जी ना जाने कितनी यादें दे चुके हैं। उनका हर गीत दिल को छू लेने वाला होता है। नेगी जी सिर्फ एक मनोरंजनकार ही नहीं बल्कि एक कलाकार, संगीतकार और कवि हैं, जो अपने परिवेश को लेकर काफी भावुक और संवेदनशील हैं। नेगी जी का जन्म 12 अगस्त 1949 को पौड़ी में हुआ। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत पौड़ी से की थी और अब तक वे दुनिया भर के कई बडे बडे देशों मे जाकर गीत गा चुके हैं। उत्तराखण्ड के इस मशहूर गायक के गानों मे मात्रा के बजाय गुणवत्ता होती है। इस वजह से लोग उनके गानों को बहुत पसंद करते हैं। वक्त के साथ-साथ उत्तराखंड की इंडस्ट्री में कई बड़े गायक भी शामिल हुए। लेकिन नए गायकों की नई आवाज के होते हुए भी पूरा उत्तराखण्ड नेगी जी के गानों को वही प्यार और सम्मान के साथ आज भी सुनता है।


Uttarakhand News: Medical report of narendra singh negi

Content Disclaimer (Show/Hide)
लेख शेयर करें